उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में गुरुग्राम के प्रतिष्ठित स्कूल जैसा मामला सामने आया है. यहां अलीगंज में पहली कक्षा के एक छात्र पर चाकू से हमला किया गया है. आरोप है कि स्कूल की ही एक सीनियर छात्रा ने ये हमला किया है. छात्र की हालत काफी गंभीर है. उसे अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है.


अलीगंज में ब्राइटलैंड स्कूल के बाथरूम में यह घटना घटी. यहां कक्षा 1 के छात्र पर धारदार हथियार से जानलेवा हमला हुआ.


परिजनों का आरोप है कि उनके बच्चे पर हमले के घंटों बाद स्कूल प्रबंधन ने इसकी जानकारी दी. वहीं मामला बढ़ने पर घटना के दूसरे दिन पुलिस को जानकारी दी गई. आरोप है कि ब्राइटलैंड स्कूल के प्रबंधन ने पुलिस और परिजनों पर दबाव बनाया.


उधर प्रिसिपंल रीना मानस के अनुसार घटना 16 जनवरी की सुबह की है. एसेम्बली खत्म होने के बाद क्लास वन ए में पढ़ने वाले बच्चे रितिक उन्हें लहुलुहान मिला. उन्हें कुछ बात समझ में नहीं आई कि यह कैसे हुआ. वह तुरंत बच्चे को लेकर देवकी नर्सिंग होम गईं लेकिन नर्सिंग होम में कोई सीनियर डाक्टर न होने के कारण, वह बच्चे को लेकर ट्रॉमा सेंटर पहुंची.



उन्होंने बताया कि वह घटना की सूचना देने अलीगंज थाने गई थीं लेकिन जब उन्हें पता चला कि एसअो अवकाश पर हैं तो उन्होंने घटना की सूचना एसपी टीजी के ऑफिस में दे दी.


उन्होंने बताया कि रितिक के पेट और सीने पर किसी धारधार हथियार से वार करने के निशान हैं. रितिक ने ट्रॉमा में होश में आने के बाद बताया कि मंगलवार को एसेम्बली खत्म होने के बाद उसको एक दीदी जिसके बाल कटे हुए थे, वो दूसरी मंजिल पर बने बाथरुम में ले गई और पहले उसे जमकर मारा पीटा और फिर उस पर किसी नुकीली चीज से वार किया.


प्रिंसिपल ने बताया कि रीतिक ने कहा है वह उस लड़की को पहचान लेगा जिसने उस पर वार किया है. उन्होंने कहा कि वो भी अपने स्तर से उस लड़की का पता लगाने की कोशिश कर रही हैं.


उधर अलीगंज पुलिस का कहना है कि छात्र को चाकू एक सीनियर छात्रा ने मारा है. अभी आरोपित छात्रा का पता नहीं चल सका है. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है. स्कूल की सीसीटीवी फुटेज खंगाली जा रही है.