राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे बीजेपी सरकार का अंतिम बजट विधानसभा में पेश कर रही हैं. प्रदेश का वित्तीय वर्ष 2018-19 का बजट पेश करते हुए सीएम सरकार की उपलब्धियों की जानकारी दी. बजट भाषण में सीएम वसुंधरा ने कहा है कि हमने सशक्त राजस्थान बनाने का संकल्प लिया था. इसके लिए निवेश, बेरोजगारी, कौशल विकास पर विशेष फोकस रखा है. उन्होंने बाड़मेर रिफाइनरी का जिक्र करते हुए कहा कि यह प्रोजेक्ट राजस्थान की सूरत बदलेगा. 1 लाख रोजगार के नए अवसर मिलेंगे. नए एमओयू से 40 हजार करोड़ रुपए की बचत हुई.


अंडर 19 वर्ल्ड कप जीतने वाले टीम के सदस्य जयपुर के क्रिकेटर कमलेश नागरकोटी को 25 लाख रुपए देने की घोषणा


एक हजार आठ सौ 32 स्कूलों को क्रमोन्नत किया जाएगा

77 हजार एक सौ रिक्त पदों पर होगी भर्ती


18 उपखंडों पर नए राजकीय कॉलेज खोले जाएंगे


पेमाइनस पेंशन के आधार पर रिटायर्ड व्याख्याता रखे जाएंगे


हर जिले में एक नंदी गौशाला को 50 लाख का अनुदान


ऊटों के संरक्षण के लिए जयपुर में मिनी प्लांट स्थापित होगा


एक हजार नर्सिंग ट्रेनिंग टीचर की भर्ती की घोषणा


27 जिला अस्पतालों में आधुनिक फायर स्टेशन स्थापित होंगे


शाहपुरा चिकित्सालय को किया जाएगा अपग्रेड 28 नए पीएसची खोली जाएगी


5 हजार 518 स्वास्थ्य कर्मियों की भर्ती होगी


बीकानेर मेडिकल कॉलेज में नए कैथ लैब स्थापना होगी


अजमेर मेडिकल कॉलेज में भी नए कैथ लैब की स्थापना होगी


चार सौ केवी का एक सब स्टेशन का लोकार्पण होगा


सात लाख नए विद्युत कनेक्शन दिए जाएंगे.



सड़क निर्माण पर होगा 767 करोड़ रुपए खर्च


200 विधानसभा क्षेत्रों में सड़क निर्माण पर 767 करोड़ रुपए खर्च करने की घोषणा की. इससे वर्ष 2018-19 में सभी गांव सड़कों से जुड़ेंगे. प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में विधायक 15 किमी तक नवीन सड़क बनवा सकेंगे. वसुंधरा राजे पेश कर रही बजट सीएम राजे ने कहा कि कुछ राजमार्गों को इमरजेंसी एयरस्ट्रीप के रूप में विकसित किया जाएगा. जयपुर में 10 करोड़ की लागत से सड़क सुरक्षा केन्द्र खोला जाएगा.


किसानों के हितों में 2 लाख कृषि कनेक्शन दिए जाएंगे.


लघु और सीमांत कृषकों के शास्ती और ब्याज माफ की घोषणा की गई.


सीएम ने किसानों को एक बारगी 50 हजार रुपए तक के कर्ज की माफी की घोषणा भी की.



वसुंधरा राजे ने कहा कि बाड़मेर रिफाइनरी को हमने शुरू किया है और इस रिफाइनरी से एक लाख रोजगार स्थापित होंगे. इससे पश्चिमी राजस्थान का कायाकल्प होगा. इससे पहले कड़ी  सुरक्षा के बीच बजट की प्रतियां  पहुंची विधानसभा में कड़ी सुरक्षा के बीच पहुंची. इस बजट में प्रदेश में कुछ नए जिलों की घोषणाओं के भी कयास लगाए जा रहे हैं.



विपक्ष का हंगामा, विधानसभा अध्यक्ष ने कहा- बाहर निकाल सकता हूं


सीएम के बजट भाषण शुरू होते ही कांग्रेस ने हंगामा शुरू कर दिया. हंगामे पर विधानसभा अध्यक्ष ने कड़ी टिप्पणी करते हुए कहा कि मेरे पास पूरे अधिकार हैं, सबको बाहर निकाल सकता हूं. इस तरह का बर्ताव निंदनीय है.  हंगामे के बाद सीएम ने बजट भाषण शुरू किया.


किसानों के कर्ज माफी की घोषणा!


बजट पूर्व विधानसभा पहुंचे राजस्थान के कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी ने किसानों के लिए इस बजट में बहुत कुछ होने की बात कही. उन्होंने किसानों के कर्ज माफी को लेकर मुंख्यमंत्री वसुंधरा राजे के जरिए किसी बड़ी घोषणा की ओर भी इशारा किया. इससे पूर्व रविवार शाम को राजे ने राज्य बजट को अंतिम रूप दिया. इस अवसर पर अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त डीबी गुप्ता, शासन सचिव वित्त (राजस्व) प्रवीण गुप्ता एवं शासन सचिव वित्त (बजट) मंजू राजपाल, विशेष सचिव वित्त (व्यय) एसके सोलंकी, निदेशक बजट शरद मेहरा उपस्थित थे.