नई दिल्ली अगले साल होने वाले आईसीसी वर्ल्ड कप पर निगाह लगाने वाली भारतीय क्रिकेट टीम 2018-19 सीजन में करीब 30 वनडे इंटरनेशनल मैच खेलेगी जबकि सभी फॉर्मेट्स में उसे कुल 63 इंटरनेशनल मुकाबले खेलने हैं.


भारतीय टीम आगामी सीजन में 12 टेस्ट मैच के साथ 21 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेलेगी. भारत का मौजूदा सीजन (2017-18) श्रीलंका में ट्राई टी-20 टूर्नामेंट (जिसमें बांग्लादेश तीसरी टीम होगी) के साथ समाप्त होगा.


भारतीय क्रिकेट कैलेंडर अप्रैल में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2018 से शुरू होगा जबकि नेशनल टीम अपना अभियान जून में आयरलैंड के खिलाफ दो मैचों की टी-20 सीरीज के साथ शुरू करेगी.


इसी महीने वे बेंगलुरु में ऐतिहासिक एकमात्र टेस्ट के लिए अफगानिस्तान की भी मेजबानी करेंगे.


इंग्लैंड का ढाई महीने का अहम दौरा जुलाई में शुरू होगा और सितंबर के शुरू में खत्म होगा जिसमें भारतीय टीम पांच टेस्ट, तीन वनडे इंटरनेशनल और इतने ही टी-20 मैच खेलेगी.

पीटीआई के मुताबिक एशिया कप (यह चरण 50 ओवर के मैच का होगा) के लिए विंडो है, लेकिन इसकी तारीखें और स्थल की घोषणा अभी बाकी है. एशिया कप में नौ के करीब वनडे मैच होंगे.


भारत का घरेलू सीजन काफी छोटा होगा, जिसमें वेस्टइंडीज की टीम अक्तूबर-नवंबर में दो टेस्ट, पांच वनडे और तीन टी-20 इंटरनेशनल मैचों के लिए आएगी. वेस्टइंडीज के दौरे के बाद भारतीय टीम नवंबर-दिसंबर में ऑस्ट्रेलिया जाएगी जहां वह उसके खिलाफ चार टेस्ट, तीन टी-20 इंटरनेशनल और तीन वनडे मैच खेलेगी.

बीसीसीआई ने न्यूजीलैंड में टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलने का नीतिगत फैसला किया है क्योंकि भारतीय समयानुसार सुबह साढ़े तीन बजे टेस्ट मैच खेलना दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड के लिए व्यवसायिक तौर पर व्यवहारिक नहीं है.


न्यूजीलैंड दौरा जनवरी के मध्य से फरवरी के मध्य तक चलेगा, जिसमें पांच वनडे और पांच टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले जाएंगे. फरवरी के दूसरे हाफ में ऑस्ट्रेलियाई टीम सीमित ओवरों की सीरीज के लिए भारत आएगी जिसमें पांच वनडे और दो टी-20 इंटरनेशनल मैच आयोजित होंगे.


2018-19 सीजन जिंबाब्वे के साथ तीन मैचों की टी-20 सीरीज के साथ खत्म होगा.