राजस्थान के अजमेर शहर के महिला इंजीनियरिंग कॉलेज में छात्राएं बुधवार को भूख हड़ताल पर बैठ गईं. विभिन्न मांगों को लेकर पिछले पांच दिनों से आंदोलनरत छात्राओं ने प्रशासन से वार्ता विफल होने के बाद अब उच्च शिक्षा मंत्री से वार्ता के पहले अनशन खत्म नहीं करने की बात कही है.


आंदोलनरत छात्रों की प्रमुख मांग फीस कम करवाना है. इसे लेकर मंगलवार को तकनीकी शिक्षा विभाग की ज्वाइंट सैकट्री पुष्पा सत्यानी के साथ वार्ता की गई थी. यह वार्ता विफल होने के बाद बुधवार को 6 छात्राओं ने भूख हड़ताल शुरू कर दी.


कॉलेज के सामने ही छात्राएं भूख हडताल पर बैठकर अपनी मांग को जल्द पूरा करने की मांग कर रही हैं. साथ ही उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी से कॉलेज में वार्ता की मांग कर रही हैं. कॉलेज की छात्राएं पिछले दो साल से फीस कम करने की मांग को लेकर कॉलेज प्रशासन के साथ वार्ता कर रही हैं लेकिन हर बार टालमटोल जवाब मिलने के बाद इस बार छात्राओं ने आरपार की लड़ाई का एलान कर दिया है.

प्रशासन ने हमें 27 तारीख को बुलाया है, लेकिन हम चाहते हैं उच्च शिक्षा मंत्री हमारी बात सुनें. जब तक वो नहीं आएंगी हमरा अनशन जारी रहेगा. अंजलि गुर्जर,

— अनशनकारी छात्रा