विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के दौरे में अपने बल्‍लेबाजी प्रदर्शन से हर किसी को हैरान किया है. कई पूर्व और मौजूदा क्रिकेटर तो उन्‍हें मौजूदा समय का दुनिया का सर्वश्रेष्‍ठ बल्‍लेबाज मान रहे हैं. दक्षिण अफ्रीका दौरे में विराट अपनी बल्‍लेबाजी से विपक्षी गेंदबाजों के लिए मुश्किल बने रहे और उन्‍होंने टेस्‍ट और वनडे सीरीज में यादगार पारियां खेलीं. बेशक, विराट इस समय बल्‍लेबाजी में कमाल कर रहे हैं लेकिन इस मामले में ऑस्‍ट्रेलिया के स्‍टीव स्मिथ और न्‍यूजीलैंड के केन विलियमसन भी उन्‍हें कड़ी टक्‍कर दे रहे हैं. इन सभी बल्‍लेबाजों का पिछले एक साल का प्रदर्शन जोरदार रहा है. विराट कोहली और स्‍टीव स्मिथ को तो मैदान पर एक-दूसरे का प्रबल प्रतिद्वंद्वी माना जाता है लेकिन ऑस्‍ट्रेलियाई टीम के कप्‍तान स्मिथ ने स्‍वीकार किया है कि वे विराट से प्रेरित होकर उनकी तरह बैटिंग करने की कोशिश करते हैं. cricket.com.au.से बात करते हुए स्मिथ ने कहा, 'मैं दुनिया की सर्वश्रेष्‍ठ खिलाड़ि‍यों देखकर कभी-कभी उनकी तरह बल्‍लेबाजी करने की कोशिश करता हूं.'

कोहली और स्मिथ के 'ऑन फील्‍ड रिलेशन' बहुत अच्‍छे नहीं माने जाते हैं. मैदान पर ये दोनों खिलाड़ी कुछ मौकों पर बहस में भी उलझ चुके हैं. इसके बावजूद स्मिथ, टीम इंडिया के कप्‍तान की बल्‍लेबाजी पर न सिर्फ बारीक नजर रखते हैं बल्कि स्पिन का सामना करने में मामले में उनसे सीखने का प्रयास करते हैं. स्मिथ ने कहा कि विराट कोहली जिस तरह से स्पिन को और तेज गेंद को ऑफ साइड में खेलते हैं, उससे मैंने सीखने का प्रयास किया है. आपको जहां से भी सीखने का मौका मिले, ऐसा करते रहना चाहिए.स्मिथ ने वर्ष 2017 के भारत दौरे में चार टेस्‍ट में 71.28 के औसत से 499 रन बनाए थे, इसमें तीन शतक शामिल थे. स्मिथ के अनुसार सिर्फ कोहली ही नहीं, दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स और न्‍यूजीलैंड के केन विलियमसन की बल्‍लेबाजी से भी उन्‍होंने कुछ न कुछ सीखा है. मैंने दक्षिण अफ्रीका के घातक बल्लेबाज एबी डीविलियर्स की बैटिंग को भी कॉपी किया है कि कैसे वो रिवर्स गेंद को भी खेलते हैं. 'मैंने विलियमसन की तरह बैटिंग की कोशिश भी की थी. गेंद खेलते समय उनके पास काफी समय होता है. वे आखिरी क्षणों पर तक गेंद पर नजर रखकर शॉट खेलते हैं.