अजमेर के लोगों को अब पासपोर्ट बनवाने के लिए जयपुर के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे. अजमेर में अब पासपोर्ट बनाने का काम शुरू हो रहा है. डाक विभाग और विदेश मंत्रालय के बीच एमओयू विवाद सुलझने के बाद इसका रास्त साफ हो गया है. गांधी भवन स्थित जीपीओ में बकायदा पासपोर्ट दफ्तर बनकर तैयार भी हो गया है. जिसका 27 फरवरी को शुभारंभ किया जाएगा. ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 26 फरवरी को ही शुरू हो जाएगी.


शुरुआती दौर में इस दफ्तर के जरिए रोजाना 20 आवेदकों के अपॉइंटमेंट उपलब्ध होंगे. नए सिरे से शुरु हो रहे इस काम में शुरुआत के एक पखवाड़े में पासपोर्ट कार्यालय के कर्मचारी डाक विभाग की सहायता करेंगे. इसके बाद डाक विभाग के अधिकारी ही इस काम को करेंगे.


अजमेर से पासपोर्ट बनाने की प्रक्रिया 26 फरवरी को दोपहर 1 बजे से ऑनलाइन आवेदन के रूप में शुरू हो जाएगी. पासपोर्ट बनवाने की प्रकिया अजमेर में शुरू होने से यहां के लोगों को राहत मिलेगी. साथ ही उन लोगों को भी इसका फायदा मिलेगा जिनके डॉक्यूमेंट में कमी रह जाने पर बार बार जयपुर के चक्कर काटने पड़ते थे. हालांकि, उन लोगों को अजमेर के पासपोर्ट कार्यालय में तो जाना पड़ेगा. लेकिन जयपुर कार्यालय के बार बार चक्कर काटने से निजात मिलेगी.