कई दुर्लभ संयोग एक साथ लिए 15 मई, मंगलवार को शनि जयंती का पर्व आ रहा है। पहला संयोग तो ये शनिदेव के प्रिय हनुमान जी के वार मंगलवार को आ रही है। इस दिन सर्वार्थसिद्धि योग, वटसावित्री व्रत और भौमवती अमावस्या का शुभ संयोग बनेगा। आईए जानें, इस खास दिन पर कर्मफलदाता किन राशियों को देंगे खुशियों की सौगात-

मेष- आम सितारा प्रबल जो आपको हर सरकारी मोर्चा पर हावी, प्रभावी विजयी रखेगा, बड़े लोग तथा अफसर मेहरबान कंसिडरेट रहेंगे, इज्जत-मान की प्राप्ति।

वृष- वर्तमान समय में शनि की ढैय्या, आने वाले समय में राहत, आय में इज़ाफा, लिखत-पढ़त के काम में अलर्ट रहें, हर कदम फूंक-फूंक कर रखें।

मिथुन- आपकी राशि को शनि देंगे खास सौगात, शत्रु विपरीत तथा कठिनाई वाले हालात बनाने में असफल रहेंगे, विवादों की स्थिति का समझदारी से निपटारा करना ठीक रहेगा।

कर्क- सितारा आमदन तथा धन लाभ के लिए अच्छा, यत्न करने पर किसी उलझे रुके तथा पेचीदा बने कामकाजी काम में कुछ पेशकदमी होगी, शनि नहीं करेंगे परेशान।

सिंह- शनि जयंती का मिलाजुला प्रभाव, अध्यापन, पर्यटन, मैडिसन, डिजाइनिंग, कंसल्टैंसी का काम करने वालों की अर्थ दशा कंफर्टेबल रहेगी।

कन्या- ये राशि शनि की ढैय्या के प्रभाव में है, नया काम शुरू न करें, सितारे अभी गर्दिश में हैं, अच्छे कर्मों से अपना आज और कल संवारे।

तुला- आपका प्रभाव दबदबा बना रहेगा, शत्रु कमजोर तथा निस्तेज से रहेंगे, धार्मिक तथा सामाजिक कामों में ध्यान, गरीबों को भोजन करवाने से शनि कृपा करेंगे। 

वृश्चिक- इस राशि पर शनि का सबसे अधिक कहर बरसने वाला है, कुछ भी नया शुरू न करें, गुड लक के लिए हनुमान चालीसा सुबह-शाम पढ़ें।  

धनु- शनि धनु राशि में गोचर कर रहे हैं और साढ़ेसाती का भी प्रभाव चल रहा है। व्यापार तथा कामकाज की दशा अच्छी, जिस काम के लिए यत्न करेंगे, उसमें कामयाबी मिलेगी, घरेलू मोर्चा पर मधुरता, तालमेल-सहयोग बना रहेगा।

मकर- शनि की साढ़ेसाती का पहला चरण चल रहा है। विवादो से दूरी बनाकर रखें,  प्रतिकूल परिस्थिति पैदा हो सकती है, बड़ी उपलब्धि मिलेगी। 

कुंभ- मन पर सकारात्मक सोच प्रभावी रहेगी, यत्न करने पर योजनाबंदी कुछ आगे बढ़ेगी, शत्रु कमजोर, निष्प्रभाव रहेंगे, बड़े लोगों से मेल-सम्पर्क तथा उनकी मदद एवं सहयोग से दूसरे लोगों पर आपकी पैठ, धाक, छाप बढ़ेगी, मान-यश की प्राप्ति।