बागपत की रैली में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे दिल्ली का लाइफलाइन बनेगा. ईस्टर्न पेरिफेरल उद्घाटन पर आने के लिए सीएम योगी ने पीएम नरेंद्र मोदी का धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा कि 4 साल के अंदर केंद्र सरकार ने कल्याणकारी योजनाएं चलाई हैं. किसानों को मांग के अनुरूप मुआवजा दिया गया. बिना भेद के अंतिम आदमी तक योजनाएं पहुंच रही हैं.


सीएम योगी ने कहा कि 40 लाख गरीबों को सौभाग्य योजना के तहत गेस कनेक्शन दिया गया. बागपत चौधरी चरण सिंह की कर्मभूमि है, पिछले 15 बरसों से प्रदेश का किसान पीड़ित था. हमारी सरकार ने किसानों से 5 लाख 500 कुंतल गेहूं खरीदा. अब तक 21 हजार करोड़ रूपये का भुगतान प्रदेश सरकार ने किया. नौजवानों के रोजगार और महिलाओं की सुरक्षा के लिए सरकार प्रतिबद्ध है.


सीएम ने कहा कि हम सब के लिए आज का दिन महत्वपूर्ण है. ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे देश का ऐसा ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे है, जो उत्तर प्रदेश के बागपत, गौतमबुद्धनगर और गाजियाबाद इन सब क्षेत्रों में भी विकास की नए आयामों को स्थापित करने की दिशा में एक बहुत बड़ी उपलब्धि है.  सीएम ने कहा कि ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे के अवसर पर प्रधानमंत्री स्वयं बागपत क्षेत्र में पधारे हैं. इस ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे को राष्ट्र को समर्पित कर रहे हैं. मैं उत्तर प्रदेश की जनता की ओर से प्रधानमंत्री का हृदय से अभिनंदन करता हूं.इस ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे को 500 दिनों के अंदर इस एक्सप्रेस वे का निर्माण करके नितिन गडकरी के नेतृत्व में एनएचएआई ने जो एक नई कार्यसंस्कृति को जन्म दिया है, मैं इसके लिए उनका भी अभिनन्दन करता हूं. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में हमारे देश ने जो नई ऊंचाइयां छुई हैं. इसके लिए भी उनका हृदय से अभिनंदन करते हुए 4 वर्ष के सफलतम कार्यकाल के लिए हृदय से कोटि-कोटि बधाई भी देता हूं.


सीएम ने कहा कि उत्तर प्रदेश प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत 8 लाख 85 हजार गरीबों को आवास उपलब्ध कराया गया है. स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत एक वर्ष में 57 लाख से अधिक गरीबों को शौचालय, 40 लाख गरीबों को सौभाग्य योजना के अंतर्गत बिजली कनेक्शन उपलब्ध कराया गया है.

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय पूरे देश के अंदर जिस तेज गति से राजमार्गों के निर्माण कार्यों को आगे बढ़ रहा है इससे हमारे उत्तर प्रदेश को भी भारी लाभ हुआ है. अनेक राजमार्गों के कार्यों में एक नई गति देखने को मिली है.


पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन समारोह बागपत के खेल स्टेडियम में हो रहा है. एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन से पहले प्रधानमंत्री भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के डिजिटल आर्ट गैलेरी का सोनीपत के जाखौली में टोल प्लाजा के पास उद्घाटन भी हो रहा है. बता दें यह देश का पहला राजमार्ग है, जहां सौर बिजली से सड़क रोशन होती है. इसके अलावा प्रत्येक 500 मीटर पर दोनों तरफ वर्षा जल संचय की व्यवस्था बनाई गई है. इस एक्सप्रेसवे पर 8 सौर संयंत्र हैं जिनकी क्षमता 4 मेगावाट है. प्रधानमंत्री ने इस परियोजना के लिये आधारशिला 5 नवंबर, 2015 को रखी थी. यह देश का पहला एक्सिस कंट्रोल हाईवे है. वाहनों को उनकी यात्रा के मुताबिक टोल चुकाना होगा.