छत्तीसगढ में पूर्ण शराबबंदी की मांग को लेकर लंबे समय से प्रयास कर रहे समाजसेवी श्रीसिंह यादव ने अब अनिश्चितकालीन भूख हडताल आरंभ कर दी हैं. भीषण गर्मी मे पिछले दो दिनों से यादव भूख हड़ताल पर बैठे हैं, लेकिन प्रशासन की तरफ से कोई पहल नहीं हुई है.


दुर्ग जिले के श्रीसिंह यादव पेशे से इंजीनियर है और वे प्रदेश मे शराबबंदी के लिए काफी लंबे समय से प्रसायरत हैं. भूख हड़ताल के दौरान भी यादव अपने कर्तव्यों का पालन कर रहे हैं और बच्चों को शिक्षा दे रहे हैं. प्रशासन और राजनेताओं की अनदेखी के चलते अब श्रीसिंह ने भूख हड़ताल शुरू कर दी है, लेकिन प्रशासन का कोई नुमाइंदा अभी तक यादव के पास नहीं पहुंचा.


भूख हड़ताल पर बैठे सिंह का कहना है कि प्रदेश में लगातार शराब का कारोबार बढ़ रहा है, जिसके लिए प्रदेश सरकार ही जिम्मेदार है. सिंह ने कहा कि जब मुख्यमंत्री अपनी विकास यात्रा के दौरान उन्हें प्रदेश में हुए विकास के दर्शन करवाएं. उन्होंने कहा कि प्रदेश में विकास शराब का हुआ है, जब हर तरफ शराब की दुकाने खुली हुई है तो लोग शराब पीकर परिवार और समाज को तबाह कर रहे हैं. श्रीसिंह यादव ने प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि उनकी बातें नहीं सुनी गई वो हर दिन 5 एमएल खून निकालकर सरकार को भेंट करेंगे.