सीबीएसई ने मेडिकल प्रवेश परीक्षा NEET-2018 का परिणाम सोमवार को जारी कर दिया. नीट के परीक्षा परिणामों में एक बार फिर राजस्थान की शिक्षा नगरी कोटा ने अपना परचम फहराया है.


कोटा ने देशभर की टॉप टेन रैंक में से पांच पर कब्जा जमाया है. पांचों छात्र कोटा के एलन कोचिंग सेंटर से हैं. एलन कोचिंग सेंटर के प्रिंस चौधरी ने देशभर में पांचवां स्थान बनाया है. प्रिंस बाड़मेर के हैं. जबकि चार अन्य ने क्रमश: 6ठी, 7वीं 9वीं और 10वीं रैंक हासिल की है. परीक्षा में करीब 13 लाख परीक्षार्थी शामिल हुए थे. घोषित कार्यक्रम के अनुसार नीट का परिणाम मंगलवार को घोषित होना था, लेकिन सीबीएसई ने इसे एक दिन पहले ही सोमवार को करीब 12.15 बजे घोषित कर दिया.


देश में कोचिंग सिटी के नाम से मशहूर कोटा ने एक बार फिर साबित कर दिया की मेडिकल और इंजीनिंयरिंग की तैयारी के लिए उससे बेहतर और कोई भी नहीं है. नीट-2018 के परिणाम जारी होते ही कोटा में खुशी की लहर दौड़ पड़ी. शहर के एलन कोचिंग के पांच छात्रों के देशभर में टॉप टेन में आने के साथ ही कोचिंग सेंटर में जश्न का माहौल शुरू हो गया.


इस कोचिंग के प्रिंस चौधरी ने पांचवें स्थान पर, वरुण ने छठे, कृष्णा अग्रवाल ने सातवें, माधव गुप्ता ने नवें और रमणीक कौर ने 10वें स्थान पर कब्जा किया है. एमबीबीएस और डेंटल की 66 हजार सीटों पर प्रवेश के लिए देशभर के करीब 13 लाख परीक्षार्थी नीट-2018 की परीक्षा में शामिल हुए थे.



उल्लेखनीय है कि देशभर के करीब डेढ़ लाख विद्यार्थी प्रतिवर्ष कोचिंग सिटी कोटा में रहकर मेडिकल और इंजीनियरिंग परीक्षाओं की तैयारी करते हैं. प्रति वर्ष मेडिकल और इंजीनियरिंग की प्रवेश परीक्षाओं के परिणामों में कोटा का वर्चस्व रहता आया है.