मॉस्को आसमान से गिरा, खजूर में अटका वाली कहावत तो हम सबने सुनी है। मगर हाल ही में यह घटना एक रूसी शख्स के साथ हकीकत में हो गई। हालांकि यह शख्स खजूर में नहीं अटका, लेकिन इसके एक खतरनाक हादसा हो गया।


रूस के 36 वर्षीय पैराग्लाइडर इवान क्रासुकी बेलारूस में मिंस्क के पास लोशेनी गांव में पैराग्लाइडिंग कर रहे थे। अचानक उनके पैराग्लाइडर का फीता टूट गया और वह नीचे जंगल की ओर गिरने लगे। इस हादसे में इवान जीवित तो बच गए, लेकिन एक बड़ी परेशानी उनके कंधे पर बैठ गई। बचाव दल को इवान बताया कि पैराग्लाइडर का पट्टा टूटने के बाद वह देवदार के पेड़ों के बीच आ गिरे। इस हादसे में देवदार के पेड़ की टहनी उनके कंधे को चीरते हुए आर-पार निकल गई।


उन्होंने स्थानीय मीडिया को बताया कि मैं इतने धीरे-धीरे नीचे आया कि शुरुआत में मुझे लगा कि सब कुछ ठीक है। मगर जैसे ही मैंने खड़ा हो कर चलने की कोशिश की, तो लगा जैसे कोई चीज मुझे पीछे की ओर खींच रही है। मैंने खुद को ध्यान से देखा तो समझ में आया कि कंधे में बड़ी सी टहनी घुसी हुई है। 


बचाव दल ने इवान को पैराग्लाइडर के मलबे से बाहर निकाला और लकड़ी के तना समेत उन्हें अस्पताल में दाखिल कराया। वहां डॉक्टरों ने ऑपरेशन कर उनके कंधे से तने को बाहर निकाल दिया। अब इवान जख्म भरने का इंतजार कर रहे हैं।