घर के निर्माण में वास्‍तु के सिद्धांतों के साथ ही वस्‍तुओं के संयोजन में भी वास्‍तु का काफी महत्‍व होता है। वस्‍तुएं किस दिशा में रखी जा रहीं हैं इस बात का सीधा असर हमारे जीवन पर भी पड़ता है। वास्‍तु में दक्षिण दिशा को सबसे अशुभ माना गया है। इस दिशा में कुछ वस्‍तुओं को रखने से घर के सदस्‍य अक्‍सर परेशानियों से घिरे रहते हैं। आइए जानते हैं इस बारे में विस्‍तार से…

दक्षिण दिशा को काल की दिशा माना जाता है। इसलिए इस दिशा में भूलकर भी घड़ी न लगाएं। ऐसा करने से घर के मुखिया की आयु कम होती है और वह रोगों से घिरे रहते हैं।

दक्षिण दिशा में आप वह अलमारी या फिर तिजोरी न रखें, जिसमें धन रखना हो। ऐसा करने से आपका धन आपके पास नहीं रुकता और तंगी बनी रहती है। इस दिशा में आप शीशे की अलमारी भी न रखें। यदि है भी तो उसे कपड़े से ढक दें।

वास्‍तु के अनुसार, रसोई में फ्रिज और माइक्रोवेब को भूलकर भी एक साथ नहीं रखना चाहिए। फ्रिज को दक्षिण दिशा में न रखें, बल्कि इसे दक्षिण-पश्चिम कोने में रखें। दक्षिण दिशा अग्नि तत्‍व का प्रतिनिधित्‍व करती है, इसलिए फ्रिज के लिए यह दिशा सही नहीं है।

वास्‍तु में ऐक्‍वेरियम रखने के लिए दक्षिण दिशा उपयुक्‍त मानी गई है। ऐसा करने से आपके घर में संपन्‍नता बनी रहती है और धन की तंगी कभी नहीं होती।

रविवार को दक्षिण दिशा में सर्वाधिक नेगेटिव एनर्जी रहती हैं। इसके प्रभाव को कम करने के लिए इस दिशा में एक कटोरे में भरकर समुद्री नमक रखना चाहिए। ऐसा करने से नकारात्मक ऊर्जा उल्टे पांव लौट जाती है।