कुआलालंपुर भारत ने दबदबा बनाते हुए अपने अंतिम राउंड रॉबिन मुकाबले में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 7 विकेट से शिकस्त देकर सातवीं बार एशिया कप के खिताबी मुकाबले में कदम रखा है. रविवार को फाइनल में उसका सामना बांग्लादेश से होगा, जिसने मेजबान मलेशिया को 70 रनों से मात देकर खिताबी मुकाबल में जगह बनाई है. फाइनल भारतीय समयानुसार दिन में 11.30 बजे शुरू होगा.


टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला करने वाली पाकिस्तानी टीम किनरारा अकादमी ओवल में निर्धारित 20 ओवर में 7 विकेट गंवाकर महज 72 रन ही बना सकी. भारत के लिए बाएं हाथ की स्पिनर एकता बिष्ट सबसे सफल गेंदबाज रहीं, जिन्होंने अपने चार ओवर में 14 रन देकर 3 विकेट हासिल किए.


अन्य गेंदबाजों को एक-एक विकेट मिला, हालांकि हैरानी की बात यह रही कि तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी को एक भी विकेट नहीं मिला. एकता ‘प्लेयर आफ द मैच’ रहीं. छोटे लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारत ने 23 गेंद रहते इसे हासिल कर लिया. सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना 40 गेंद में 38 रन बनाकर शीर्ष स्कोरर रहीं, जबकि कप्तान हरमनप्रीत कौर ने 49 गेंद में 34 रन बनाए.


अनुभवी मिताली राज और दीप्ति शर्मा खाता नहीं खोल सकीं, लेकिन उनके आउट होने से भारत की जीत में कोई बाधा नहीं पड़ी. यह भारत की पांच मैचों में चौथी जीत थी, उन्हें बांग्लादेश से उलटफेर का सामना करना पड़ा था, लेकिन इस हार क बाद भारत ने वापसी कर श्रीलंका और पाकिस्तान को पस्त किया.


उधर, रॉयल सेलानगोल क्लब मैदान पर खेल गए मैच में बांग्लादेश ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में 4 विकेट के नुकसान पर 130 रन बनाए थे. उसने मलेशिया को 20 ओवरों में 9 विकेट पर 60 रनों पर सीमित कर फाइनल में जगह पक्की की.