छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में शादी समारोह में शामिल होने गई एक नाबालिग रहस्यमय तरीके से दिल्ली अचानक पहुंच गई. परिजनों को इस बात की जानकारी तब हुई जब एक गुमनाम नंबर से नाबालिग ने अपने पिता को फोन किया. इसके बाद से वह मोबाइल नंबर बंद आ रहा है. फिलहाल, संबंधित मामले में कोरिया जिले के मनेन्द्रगढ़ थाना क्षेत्र के परसगढ़ी में रहने वाले इस परिवार ने अपनी नाबालिग बेटी की बीते 29 मई से लापता होने की शिकायत थाने में दर्ज करा दी है.


परसगढ़ी के रहने वाले पीड़ित परिवार ने बताया कि उनकी बेटी एक शादी समारोह में शामिल होने के लिए गई थी. शादी समारोह के बाद वह बांधपारा में रहने वाली अपनी किसी सहेली के घर पर रूक गई थी. इसके बाद बाकी लोग तो अपने अपने घर वापस आ गए, लेकिन उनकी बेटी घर नहीं पहुंची. आसपास के लोगों से पूछने पर पता चला कि आखिरी बार उनकी बेटी को मनेन्द्रगढ़ के आमाखेरवा मैदान में किसी के साथ देखा गया था.


इस बीच उन्हें उनकी बेटी ने एक अंजान मोबाइल नंबर से फोन कर बताया कि उसे किसी सरिता नाम की एक लड़की ने दिल्ली में किसी मंडी नामक जगह छोड़कर चली गई है. उन्होंने कहा कि जिस आदमी के मोबाइल से उनकी बेटी ने बात की थी, उस आदमी ने भी उनसे बात कर बेटी को दिल्ली से ले जाने की बात कही. इसके बाद अपनी बेटी से बात करने के लिए जब भी वे उस नंबर पर संपर्क करना चाह रहे हैं, तो वह मोबाइल नंबर बंद बता रहा है.


मामले में महेन्द्रगढ़ थाना प्रभारी विमलेश दुबे ने कहा कि नाबालिग की उम्र 14 वर्ष है, जिसकी खोज जारी है. पुलिस के मुताबिक नाबालिग की खोजने के लिए एक टीम बनाकर दिल्ली रवाना किया जाएगा.