नई दिल्ली,  कहते हैं कि दुनिया में फुटबॉल जैसी दीवानगी और किसी खेल के लिए नहीं है। फीफा वर्ल्ड कप 2018 के करीब आने के साथ ही ये बात और पक्की होती जा रही है। जहां दुनियाभर के लोग फुटबॉल के इस महासंग्राम का हिस्सा बनने के लिए रूस का रुख कर रहे हैं, वहीं भारत में भी एक ऐसा दंपती मौजूद है जिसका वर्ल्ड कप जुनून देखकर आप हैरान रह जाएंगे।

ये हैं फीफा के सबसे बड़े इंडियन फैन!

भारत में फुटबॉल की दीवानगी की बात करें तो सबसे पहला नाम आता है कोलकाता। जी हां पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता को दर्शकों के फितूर के कारण फुटबॉल का 'मक्का' भी कहा जाता है। फुटबॉल के इस दीवाने शहर में 85 साल के पन्नालाल चटर्जी अपनी 75 साल की पत्नी चैताली के साथ रहते हैं, जो वर्ल्ड कप के सबसे बड़े प्रशंसकों में से एक हैं। पन्नालाल और उनकी पत्नी, अपने जीवन में अब तक 9 फीफा विश्व कप का हिस्सा रह चुके हैं।

10वां वर्ल्ड कप देखने रूस जाएंगे चटर्जी दंपती

1982 से लेकर 2014 तक, हर फीफा वर्ल्ड कप में पन्नालाल और उनकी पत्नी चौताली ने शिरकत की है। हालात चाहे जैसे भी रहे हों इस दंपती ने अलग-अलग देशों का सफर करके अपने आंखों से फुटबॉल वर्ल्ड कप के मैचों का दीदार किया है। कोलकाता के खिदिरपुर में एक साधारण से फ्लैट में रहने वाले पन्नालाल कहते हैं, 'साल 2022 में विश्व कप कतर में होगा, लेकिन तब मैं 90 साल का हो जाउंगा और वहां जाने की उम्मीद खत्म हो चुकी होगी। लेकिन हम दोनों का सौभाग्य है कि हम रूस जाकर 10वें बार वर्ल्ड कप टूर्नामेंट का हिस्सा बनेंगे।' 

फुटबॉल के लिए त्याग दी लाइफस्टाइल

पन्नालाल और उनकी पत्नी के लिए हर चार सालों में ये ख्वाब पूरा करना आसान नहीं रहा। अगल-अलग देशों में जाने के लिए उन्हें अच्छा खासा बजट इकट्ठा करना पड़ता है। दोनों ने अपने जीवन को साधारण बनाया और पसंदीदा खान-पान त्याग दिया ताकि वर्ल्ड कप के मैच देखने कि लिए पैसा जमा किया जा सके। 

आपको बता दें कि इस बार चटर्जी दंपती सात पूर्व फुटबॉलरों के साथ 14 जून को रूस के लिए रवाना होंगे। पन्नालाल ने बताया-'इस बार अब तक हम तीन मैचों के ही टिकट खरीद पाए हैं। हमने फीफा से टिकट देने का अनुरोध किया है। अभी तक वहां से कोई जवाब नहीं मिला है। हालांकि हमें उम्मीद है।'