इंदौर। भय्यू महाराज सुसाइड केस में पुलिस शुक्रवार देर रात तक उनकी बेटी कुहू और सेवादार विनायक दुधाले से पूछताछ करती रही। कुहू के बयानों में वह तल्खी नहीं थी जो मंगलवार शाम तक देखने को मिल रही थी, लेकिन इशारों-इशारों में उसने आयुषी पर प्रताड़ना का आरोप लगाया। एसपी अवधेश गोस्वामी के मुताबिक कुहू ने कहा कि वह पिता की दूसरी शादी के पक्ष में नहीं थी। उसने न आयुषी को कभी अपनी मां माना, न ही उससे कभी बातचीत की।


उसने यह भी बताया कि महाराज की शादी के कुछ दिन बाद आयुषी से विवाद हुआ और घर में तस्वीरें फेंक दी। इन घटनाओं की वजह से पिता तनाव में थे। कुहू ने बयान में बताया कि पिता उसकी जल्द शादी कर देना चाहते थे। उसके लिए लड़का ढूंढ रहे थे, लेकिन उसने शादी से इंकार कर दिया और कहा कि वह अभी छोटी है और पढ़ना चाहती है।


कुहू और आयुषी के बीच समझौता!: जांच में शामिल एक अफसर के मुताबिक कुहू और आयुषी के बीच गुरुवार रात समझौता हुआ है। देर रात वहां पहुंचे भाजपा के एक बड़े नेता और परिजन ने दोनों को समझाया कि उनकी लड़ाई में तीसरे व्यक्ति को फायदा हो सकता है। संभवत: इसी कारण उसने आयुषी पर सीधे आरोप नहीं लगाए।