उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के चारबाग में 2 होटलों में लगी आग से लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है. मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को इस अग्निकांड में घायल हुए लोगों का समुचित उपचार कराने के निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री ने मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना भी व्यक्त की है. उधर कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने कहा है कि होटल में आग लगने की मजिस्ट्रियल जांच होगी. हादसे की जांच रिपोर्ट एक हफ्ते में तैयार होगी. चारबाग के सभी होटलों में सुरक्षा और अतिक्रमण की जांच होगी.

बता दें राजधानी लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन के समीप स्थित होटल विराट इंटरनेशनल में मंगलवार सुबह लगी भयंकर आग में अब तक एक बच्ची और एक महिला समेत 5 लोगों की मौत की हो चुकी है. 3 लोगों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. आग की वजह से होटल पूरी तरह जलकर ख़ाक हो गया है. फिलहाल, रेस्क्यू ऑपरेशन खत्म हो गया है और सभी लोगों को बाहर निकाल लिया गया है.


विराट इंटरनेशनल में लगी आग ने बगल के एसएसजी इंटरनेशनल होटल को भी अपनी चपेट में ले लिया. दोनों ही होटल पूरी तरह जलकर खाक हो गए. वहीं, 5 गंभीर रूप से झुलसे लोगों में से एक बच्ची, एक महिला और तीन अन्य की ट्रामा सेंटर में इलाज के दौरान मौत हो गई. 3 अन्य घायलों की भी स्थिति गंभीर बनी हुई है. हादसे में मृत लोगों की शिनाख्त बेगमगंज कानपुर के आमिर (26) और रानी (25 ), बरेली के इंद्र कुमार शुक्ला और डेढ़ साल की बच्ची मेहर के रूप में हुई है.

दमकल की आधा दर्जन गाड़ियां ने घंटों कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया. बताया जा रहा है कि एक धमाके के साथ होटल में आग लगी और देखते ही देखते आग ने पूरे होटल को चपेट में ले लिया. यह भी बात सामने आ रही है कि मानकों को दरकिनार कर अवैध रूप से होटल चल रहा था.


पुलिस ने चार मौतों की पुष्टि की


हालांकि आग की वजहों का अभी पता नहीं चला है. कहा जा रहा है कि शार्ट सर्किट की वजह से आग लगी है. जिस वक्त आग लगी उस वक्त होटल में कई लोग मौजूद थे. घायलों को ट्रामा सेंटर भेजा गया है. एसएसपी दीपक कुमार भी मौके पर मौजूद रहे और पूरे ऑपरेशन की अगुवाई की. दीपक कुमार ने बताया कि प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक करीब 5.30 बजे के करीब होटल से धुआं निकलने लगा. पुलिस को सूचना करीब 6.05 बजे दी गई. फिलहाल, सर्च ऑपरेशन जारी है. फर्स्ट फ्लोर पर सर्च चल रहा है. आग की वजह शार्ट सर्किट हो सकती है. एसएसपी ने बताया कि मामले की जांच की जाएगी.


एसएसपी ने बताया कि प्रथम दृष्टया यह प्रतीत हो रहा है कि बेसमेंट में आग लगी और ऊपर की तरफ बढ़ी. हादसे के वक्त 35 से 40 लोग मौजूद थे. सभी को निकाल लिया गया है. घटना के बाद से ही होटल प्रबंधन के लोग फरार हैं. जिसके बाद माना जा रहा है कि कहीं न कहीं लापरवाही हुई है.