मॉस्को रूस में चल रहे 21वें फीफा विश्व कप के दौरान दूसरे देशों से यहा पहुंचे फुटबॉल प्रशंसक मैच का लुत्फ उठाने के साथ-साथ स्थानीय लड़कियों से मेल-जोल बढ़ाने में भी खासी दिलचस्पी दिखा रहे हैं। ऐसी ही स्थिति अर्जेंटीना से यहां आए प्रशंसक अगुस्टिन ओथेलो की है जो मॉस्को पार्क में बैठ कर अपनी टीम के प्रदर्शन की समीक्षा करने की जगह अपने फोन में रूस की लड़कियों का नंबर गिनने में व्यस्त हैं। नीले और सफेद धारी वाली जर्सी पहने 26 साल के इंजीनियर से जब इस बारे में पूछा गया तो उसने खुशी से कहा, मरे पास ‘चार’ रूसी लड़कियों के नंबर हैं। अगुस्टिन के दोस्तों में यह होड़ लगी है कि सबसे ज्यादा लड़कियों का फोन नंबर कौन इकठ्ठा कर सकता है।

रूसी सुंदरियों से बात करने में आड़ें आ रही भाषा

अगुस्टिन को उम्मीद है कि उसके ‘आकर्षक व्यक्तित्व’ का उसे फायदा मिलेगा और यहां उसे ‘अपना प्यार’ मिलेगा। उसने कहा, ‘हमें यह नहीं पता कि मैचों के बीच में क्या करना है इसलिए हमने सोचा कि रूस के लोगों को बेहतर तरीके से जानते हैं।’ अगुस्टिन की तरह अर्जेंटीना के दूसरे प्रशंसक भी डेटिंग ऐप टिंडर पर रूस की लड़कियों की सेल्फी देख रहे हैं। अगुस्टिन ने कहा, ‘इस मामले में कड़ी प्रतियोगिता हैं क्योंकि विश्व कप के लिए बड़ी संख्या में पुरुष रूस आये हैं और यहां की बहुत कम लड़कियां अंग्रेजी या स्पेनिश भाषा जानती हैं।’ भाषा की बाधा के बाद भी प्रशंसक खुद को रूसी लोगों से मिलने से नहीं रोक पा रहे हैं।

रूस के राजनीतिज्ञों ने अपने देश की युवतियों को किया है सतर्क

रूस के राजनीतिज्ञों ने हालांकि स्थानीय महिलाओं को विदेशी पुरुषों से दूर रहने की नसीहत दी है। विश्व कप शुरू होने से एक दिन पहले कम्युनिस्ट सांसद और संसद में परिवार, महिलाओं एवं बच्चों की समिति की प्रमुख तमारा प्लेतनेवा ने रूस की महिलाओं को आगाह करते हुए कहा कि विदेशी फुटबॉल प्रशंसकों से मेलजोल बढ़ाने पर उन्हें ‘दूसरी जाति’ के बच्चों को अकेले पालना पड़ सकता है। तमारा ने कहा, ‘हमें अपनी जाति के बच्चों को ही जन्म देना चाहिए।’ रूस के दूसरे सांसद हालांकि उनकी बातों से इत्तेफाक नहीं रखते।

ब्लादिमी पुतिन के कार्यालय ने प्यार को दे दी है इजाजत

एलडीपीआर पार्टी के सांसद मिखायल देगत्यारयोव ने कहा, ‘ज्यादा प्यार से हम विश्व कप से जुड़ाव महसूस करेंगे। जितने अधिक बच्चे हों उतना अच्छा है।’ रूस के राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन के कार्यालय ने विश्व कप के दौरान रोमांस करने को किसी की निजी पसंद करार दिया। पुतिन के प्रवक्ता डिमित्रि पेस्कोव ने कहा, ‘रूसी महिलाएं अपने मामलों से खुद ही निपट सकती हैं। वे दुनिया की सर्वश्रेष्ठ महिलाएं हैं।’अपना नाम मारिया एस बताने वाली एक महिला ने कहा कि उसे विश्व कप का बेसब्री से इंतजार था क्योंकि इस दौरान ‘विदेशी लोगों से मिलने के कई मौके मिलेंगे।’ इस 25 वर्षीय महिला ने विश्व कप शुरू होने से पहले अंग्रेजी भी सीखी है।