भारत सहित दुनियाभर में आज चौथा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है। इस मौके पर राजधानी दिल्ली बृहस्पतिवार की सुबह पूरी तरह से योगमय हो चुकी है। केंद्र व दिल्ली सरकार, तीनों नगर निगम, एनडीएमसी, दिल्ली छावनी बोर्ड और अनेक सामाजिक एवं धार्मिक संगठनों ने सौ से ज्यादा स्थानों पर योग कार्यक्रमों का आयोजन किया है। मुख्य योग कार्यक्रम तीन वर्ष बाद एक बार फिर राजपथ पर हो रहा है। सभी जगह सुबह छह बजे से योग कार्यक्रम शुरू हो चुके हैं। वहीं, इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, देहरादून में हजारों कार्यकर्ताओं के साथ योगासन करेंगे। 

केंद्र सरकार की पहल पर राजपथ पर योग दिवस में मुख्य कार्यक्रम आयोजित किया गया है, यहां केंद्रीय मंत्री डा. हर्षवर्धन, उपराज्यपाल अनिल बैजल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एवं अन्य नेता, देश विदेश के अधिकारी एवं कई गणमान्य व्यक्तियों के पहुंचने की संभावना है। योग विज्ञान एवं मानव कल्याण ट्रस्ट की ओर से मूलचंद के पास केंद्रीय विद्यालय के सामने डीडीए पार्क में योग कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। यहां पर हजारों गणमान्य व्यक्ति योग करेंगे। यहां योग करने के लिए आने वाले व्यक्ति काफी दिनों से योग कर रहे हैं। 

ब्रह्मा कुमारी संस्था ने लाल किला मैदान में सामूहिक योग कार्यक्रम आयोजित किया है। इस दौरान दिल्ली और एनसीआर के 50 हजार से अधिक योग प्रेमी जनता भाग लेगी। दिल्ली छावनी बोर्ड ने दिल्ली छावनी में श्रीनागेश गार्डन, एनडीएमसी ने नेहरू पार्क, लोधी गार्डन व तालकटोरा गार्डन, दक्षिण दिल्ली नगर निगम ने तालकटोरा स्टेडियम, उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने करोल बाग स्थित अजमल खां पार्क, पूर्वी दिल्ली नगर निगम ने पटपडग़ंज स्थित अपने मुख्यालय में योग कार्यक्रम का आयोजन किया है। 

डीडीए ने अपने तमाम स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्सों में योग कार्यक्रम का आयोजन किए हैं। डीडीए ने द्वारका सेक्टर-11, रोहिणी यमुना क्रीड़ा स्थल में विवेकानंद योगाश्रम अस्पताल की तरफ से योग करवाया जाएगा। इसके अलावा डीडीए के इंद्रप्रस्थ मिलेनियम पार्क, महाराजा सूरजमल पार्क, रोहिणी का अवंतिका डिस्ट्रिक पार्क, रोहिणी सेक्टर-14 का चित्रगुप्त डिस्ट्रिक पार्क, हौज खास डीयर पार्क, अशोक विहार के अशोक गार्डन, मयूर विहार संजय लेक के ग्रीन एरिया में भी योग किया जाएगा। 

दूसरी ओर राजधानी में होने वाले योग कार्यक्रमों में पतंजलि योगपीठ, आर्ट ऑफ लिविंग, मां शक्ति, प्रजापति ब्रह्मकुमारीज ईश्वरीय विश्वविद्यालय, देव संस्कृति विश्वविद्यालय, हरिद्वार (गायत्री परिवार), मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान, दिल्ली पुलिस, केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल, केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल, सीमा सुरक्षा बल, भारत तिब्बत सीमा पुलिस, एनडीएमसी के स्वयंसेवक एवं कर्मचारी, सामान्य जनता के साथ-साथ अतिविशिष्ट और गणमान्य विशिष्ट व्यक्ति भी भाग लेंगे।