उत्तर प्रदेश के मथुरा में एक गैंगरेप के आरोप हरिओम ने पुलिस की डर से शनिवार देर रात फांसी लगा ली थी. आनन-फानन में परिजन उसे अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. इधर, आरोपी के घरवालों ने गैंगरेप पीड़िता के परिवार पर आरोपी की हत्या का आरोप लगाया है. पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है.


घटना गोविंदनगर थानांतर्गत राधेश्याम कॉलोनी का है. बता दें कि यहां पर चार युवकों पर 14 वर्षीय छात्रा से गैंगरेप का आरोप लगा था. छात्रा ने आरोप लगाया था कि शुक्रवार की रात वह घर पर सो रही थी. तभी चार युवक उसके घर में घुस गए थे. वह घर के अंदर सो रही थी जबकि उसके पिता घर के बाहर सो रहे थे. छात्रा का आरोप है कि युवकों ने उसका मुंह बंद करके उसके साथ रेप किया. छात्रा के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने विपिन, सुनील और हरिओम तीनों भाइयों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली थी. पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही थी.


शनिवार को चारों आरोपियों में से एक आरोपी हरिओम फांसी से लटकता मिला. उसे आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. हरिओम के परिजनों का आरोप है कि जिस छात्रा ने हरिओम पर रेप का आरोप लगाया था, उसके परिजनों ने ही हरिओम की हत्या की है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.