सेक्स लाइफ को लेकर आमतौर पर कपल खुलकर बात नहीं करते। जहां पुरुषों को अपनी सेक्शुअल प्रॉब्लम के बारे में बात करना काफी कठिन लगता है, वहीं महिलाएं इसे खुद के शारीरिक आकर्षण से जोड़कर देखती हैं। उन्हें लगता है कि अब उनका पार्टनर उन्हें अपीलिंग नहीं पाता, जिस वजह से वह उनके करीब नहीं आ रहा है। हालांकि, यह जानना बेहद जरूरी है कि आपके मेल पार्टनर की सेक्स लाइफ में दिलचस्पी कम हो जाने के पीछे कई बड़ी वजह हो सकती हैं, जिन पर ध्यान देना रिश्ते के लिए अहम है।

टेस्टोस्टेरोन हार्मोन पुरुषों में सेक्स डिजायर के पीछे की एक बड़ी वजह होते हैं। इस हार्मोन के कम हो जाने से सेक्स ड्राइव में भी कमी आ जाती है। टेस्टोस्टेरोन हार्मोन में कमी की कई वजह हो सकती हैं। असल वजह जानने के लिए आप काउंसलर या डॉक्टर की भी मदद ले सकते हैं।

आपको शायद एहसास न हो लेकिन आपका मेल पार्टनर डिप्रेशन का शिकार हो सकता है। इस वजह से उसकी संबंध बनाने की इच्छा में कमी आती है और अगर जोर डाला जाए तो वह चिड़चिड़े हो जाते हैं। यह आपके रिश्ते को और नुकसान पहुंचा सकता है, क्योंकि ऐसा होने पर आपका पार्टनर आपसे दूरी बना सकता है।

शराब या सिगरेट की लत रिश्तों पर गहरा असर डालती है। यह लत लंबे समय में शरीर पर बुरा प्रभाव डालते हुए हार्मोन को प्रभावित करती है, जिससे सेक्स से जुड़ी रुचि में कमी आ जाती है।

सेक्स के दौरान पुरुष अपनी महिला पार्टनर को सेटिस्फाई करने की कोशिश करते हैं। यदि उन्हें लगे की वह ऐसा नहीं कर पा रहे हैं तो सेक्स में उन्हें दिक्कत आने लगती है। वह इससे बचने लगते हैं। परफॉर्मेंस एंग्जायटी में अगर कमी न आए तो पुरुष पूरी तरह से पार्टनर के साथ सेक्स से दूरी बना लेते हैं।

आपका पुरुष साथी अगर इमोशनल लेवल पर आपके साथ जुड़ाव महसूस नहीं कर रहा है तो वह आपके करीब नहीं आएगा। किसी भी रिश्ते के लिए इमोशनल बॉन्डिंग की जरूरत होती है और इसमें कमी आपके पार्टनर को दूर रहने पर मजबूर कर सकती है।

सेक्स लाइफ को लेकर आपके पुरुष पार्टनर और आपकी जरूरत अलग-अलग हो सकती है। ज्यादातर मामलों में सेक्शुअल रिलेशनशिप में पुरुष पार्टनर नई चीजें ट्राइ करना चाहते हैं लेकिन महिलाएं इसके लिए राजी नहीं होतीं। रिश्ते में भी समय-समय पर कुछ नया न हो तो पुरुष साथी का पार्टनर के लिए आकर्षण कम होने लगता है और वह सेक्स में रुचि खोने लगते हैं।