वास्तु शास्त्र में कई ऐसी वस्तुएं है, जिन्हें घर में रखने से पॉज़िटिव एनर्जी बढ़ती है। दूसरी और कुछ ऐसी ही चीज़ें होती हैं, जिनको अगर घर में रखा जाए तो उनका नेगेटिव इफेक्ट पड़ सकता है। आज हम बात करेंगे वास्तु के कुछ ऐसे चिन्हों के बारे में जो यदि घर में हों तो किसी भी प्रकार का वास्तु दोष घर पर बुरा प्रभाव नहीं डालता। यह वस्तुएं घर में रखने से नेगेटिव एनर्जी को खत्म किया जाता हैं और ये चीजें घर के वास्तु दोष के बुरे प्रभावों को खत्म करते शुभ फल प्रदान करती है।

एक कलश जिसमें शुद्ध जल भर कर इस पर अशोक या आम की पत्तियों को  लाल धागे से बांधना चाहिए। इसे स्वास्थ्य, समृद्धि और कल्याण का सूचक माना जाता है। इसे घर के मंदिर में स्थापित करना चाहिए।

घर के मेन गेट पर या उसके पास वाली दीवार पर घर की महिलाओं को हल्दी वाले हाथों का छाप करना चाहिए। ये निशान वास्तु में शुभ माने जाते हैं। माना जाता है कि सृष्टि के पांच तत्व हमारे हाथ की हथेली में समाए हैं इसलिए ये निशान घर में सुख एवं समृद्धि लाते हैं।

वास्तु में मछली को खुशहाली से जोड़ा जाता है। मछली के प्रतिक चिन्ह को घर की उत्तर दिशा में रखना चाहिए। यदि यह चिन्ह जोड़े में हो तो और भी अच्छा होगा। इससे धन लाभ होता है। अगर आप इनके चिन्ह घर में नहीं रख सकते तो फिश एक्वेरियम रख सकते हैं।

ॐ का चिन्ह घर में रखने से एक ख़ास तरह की ऊर्जा का संचार होता है, जो घर में आने वाली नकरात्मक ऊर्जा को नष्ट करती है। इसे आप प्रवेश द्वार के पास, घर के मध्य में या किसी भी कोने में रख सकते हैं।

अगर घर में धन से सम्बंधित परेशानी रहती है। धन आता तो है लेकिन टिक नहीं पाता। इसके अलावा घर के सदस्य बार-बार बीमार पड़ जाते हैं तो आप स्वस्तिक का चिन्ह घर में जरूर लाएं। इस चिन्ह को घर के मुख्य द्वार के दोनों तरफ लगा सकते हैं।