लखनऊ भारतीय जनता पार्टी 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए सोशल मीडिया को अपना अहम हथियार बनाने जा रही है। प्रदेश में 74 सीटों को जीतने और 51 फीसदी तक मत प्रतिशत बढ़ाने के लक्ष्य को लेकर चल रही भाजपा अपने गठित सभी एक लाख 30 हजार बूथों में हर एक पर दो साइबर योद्धा बनाने जा रही है। अगले दो महीनों में सभी बूथों पर पार्टी के दो लाख 60 हजार साइबर योद्धा खड़े हो जाएंगे। 


हर बूथ कमेटी में चिन्हित किए जाएंगे दो योद्धा


भाजपा प्रदेश में एक लाख 47 हजार बूथों में अब तक एक लाख 30 हजार बूथ कमेटियां गठित कर चुकी है। पार्टी सूत्रों का कहना है कि धार्मिक व जातीय समीकरणों के कारण सभी एक लाख 47 हजार बूथों पर कमेटियां बनाना संभव नहीं है। पार्टी की इन एक लाख 30 हजार बूथ कमेटियों में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महामंत्री, मंत्री समेत 21 सदस्य हैं।


इन बूथ कमेटियों में से दो युवा सदस्य ऐसे छांटे जाएंगे जो इन्टरनेट और स्मार्ट फोन से लैस होंगे। उन्हें आईटी टेक्नलॉजी की जानकारी भी होगी। इन्हें संयोजक और सह संयोजक का पद नाम दिया जाएगा। 


पार्टी के पूरे प्रदेश में 1471 मंडल हैं।  इन दोनों बूथों पर पदाधिकारयों को मंडल स्तर पर पार्टी के लिए सोशल मीडिया के उपयोग करने के बारे में प्रशिक्षित किया जाएगा।


बूथ कमेटियों से सोशल मीडिया के इन सदस्यों को प्रशिक्षण में यह बताया जाएगा कि कैसे उन्हें केन्द्र और प्रदेश सरकार की योजनाओं की जानकारी अपनी बूथ कमेटयों तक ही नहीं, बल्कि अपने बूथ से संबंधित गांव के लोगों तक पहुंचानी है।


इसके अलावा योजनाओं का लाभ वंचितों  तक पहुंचाने के लिए पहुंचाने के लिए शासन-प्रशासन से तालमेल बिठाने के लिए भी ये पार्टी के साइबर योद्धा जिम्मेदार होंगे।