ग्वालियर। सड़क पर गैस पाइप लाइन डालने के लिए खोदे गए गड्ढे को लापरवाही से खुला छोड़ा गया। जिसमें शनिवार रात 12 बजे एक सांड गिर गया। सांड के गिरने के बाद जब शोर हुआ तो आसपास के लोग एकत्रित हो गए। घटना की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस मौके पर पहुंची और लौट आई। लेकिन सांड को निकालने का कोई उपाय किसी के पास नहीं था। नगर निगम को सूचना दी गई, लेकिन किसी ने सुनवाई नहीं की। 3 से 4 घंटे तड़पने के बाद सांड की मौत हो गई। इस मामले में क्षेत्रवासियों की शिकायत पर पुलिस ने अवंतिका गैस लिमिटेड के कर्मचारी पर लापरवाही का मामला दर्ज कर लिया है।


थाटीपुर थानाक्षेत्र स्थित नेहरू कॉलोनी के मुख्य रोड पर दो दिन से अवंतिका गैस लिमिटेड (एजीएल) द्वारा पीएनजी (पाइप्ड नेचुरल गैस) की लाइन डालने के लिए गड्ढा खोदा गया था। लेकिन इसे लापरवाही पूर्वक खुला छोड़ दिया गया। जिससे क्षेत्रीय लोगों को काफी परेशानी हो रही थी। शनिवार रात 12 बजे के बाद अचानक खुले गड्ढे में एक छोटा सांड गिर गया। जब सांड गड्ढे में से निकलने का प्रयास कर रहा था तो लोगों को उसके शोर से घटना का पता लगा। रात को ही पुलिस को मामले की सूचना दी। इसके बाद नगर निगम से संपर्क करने का प्रयास किया, लेकिन किसी अधिकारी का फोन नहीं उठा। 3 से 4 घंटे तड़पने के बाद सांड की मौत हो गई। इसके बाद सुबह नगर निगम मृत जानवरों को उठाने वाले टीम पहुंची और सांड का शव ले गई। घटना से दुखी क्षेत्रवासी नीरज पुत्र आशीष तोमर निवासी नेहरू कॉलोनी ने मामले की शिकायत कर गड्ढा खोदने वाली कंपनी के कर्मचारियों पर मामला दर्ज करने के लिए शिकायत की। जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।