इलाहाबाद चन्द्रशेखर आजाद पार्क में सुबह सैर करने वालों के लिए एक अच्छी खबर है। सुबह पांच बजे से नौ बजे तक इस पार्क को शुल्क मुक्त करने का प्रस्ताव सोमवार देर शाम तैयार किया गया। इसे प्रमुख सचिव उद्यान के समक्ष रखा जाएगा।


इस पार्क को शुल्क से मुक्त करने की घोषणा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य भी कर चुके हैं। कोर्ट का निर्देश है कि प्रवेश शुल्क से मिलने वाले राजस्व की भरपाई राज्य सरकार को करनी होगी जिससे पार्क का रखरखाव सही तरीके से हो सके। इसको लेकर ही मामला अटका हुआ था। टिकट लगाने से हर साल से 45 से 50 लाख् रुपये की आय हो रही है। इसका 30 फीसदी प्रदेश सरकार को देना होगा।


उप मुख्यमंत्री की पहल पर दो दिन से कवायद चल रही थी। सोमवार शाम को मंडलायुक्त डॉ. आशीष गोयल ने डीएम सुहास एलवाई, एडीए के उपाध्यक्ष भानु प्रकाश गोस्वामी, एडीएम सिविल सप्लाई एपी सिंह, उद्यान उप निदेशक डॉ. विनीत कुमार व आजाद पार्क की उद्यान अधीक्षक डॉ. सीमा सिंह राणा के साथ बैठक की।


इसमें शासन को भेजे जाने वाले प्रस्ताव पर विचार किया गया। उद्यान अधीक्षक ने कहा कि चार घंटे तक पार्क में प्रवेश मुफ्त करने पर 30 फीसदी राजस्व की क्षति होगी। इसकी भरपाई प्रदेश सरकार को करनी होगी।


इस प्रस्ताव पर प्रमुख सचिव उद्यान सुधीर गर्ग भी शासन के अधिकारियों के साथ विचार करेंगे। इसके लखनऊ में जल्द ही बैठक होगी। जिसमें उद्यान अधीक्षक के साथ प्रशासन के अधिकारी भी शामिल होंगे।