नई दिल्ली,  सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को ताज महल की सुरक्षा के लिए कदम नहीं उठाने के कारण फटकारा है। कोर्ट ने कहा कि यह अधिकारियों की तरफ से घोर लापरवाही बरतने का मामला है। शीर्ष कोर्ट ने कहा- ताजमहल की सुरक्षा के लिए संसद की स्थाई समिति की रिपोर्ट के बावजूद सरकार ने कोई ठोस कदम नहीं उठाए गए। कोर्ट ने कि वह ताज के संरक्षण के मुद्दे पर 31 जुलाई से नियमित सुनवाई करेगा।


केंद्र सरकार ने कोर्ट में कहा है कि ताजमहल और उसके इर्दगिर्द प्रदूषण के स्रोत का पता लगाने और उसकी रोकथाम के उपाए सुझाने के लिए एक विशेष समित का गठन किया गया है। आईआईटी कानपुर ताजमहल के अंदर तथा आसपास वायु प्रदूषण का आकलन कर रहा है और यह चार महीने में अपनी रिपोर्ट पेश करेगा।