भोपाल। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों के दौरान इंदौर-भोपाल संभाग सहित मध्यप्रदेश के 22 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। राजधानी में बुधवार रात से शुरू हुआ बारिश का सिलसिला अब भी जारी है। भोपाल शहर में बीते चौबीस घंटों में 104.6 मिली मीटर बारिश हुई है। वहीं पूरे भोपाल जिले में 53.7 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई। प्रदेश में सबसे ज्यादा बारिश खंडवा में हुई। खंडवा में पिछले 24 घंटे में 149 मिमी बारिश दर्ज की गई।



बीती रात से लगातार हो रही बारिश से नदी-नाले उफान पर हैं। मौसम विभाग के मुताबिक राज्य में भोपाल, आगर, शाजापुर, राजगढ़, छतरपुर, सागर, दमोह, अशोकनगर, गुना, नीमच, मंदसौर, मंडला, बालाघाट, सिवनी, जबलपुर, डिंडोरी, बैतूल, होशंगाबाद, खंडवा, उज्जैन, देवास, बड़वानी जिलों में अगले 24 घंटे में भारी बारिश हो सकती है। वहीं, 11 जुलाई को पूरे मध्यप्रदेश में 16.6 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई, जो कि सामान्य से 72% ज्यादा है। वहीं, प्रदेश में इस सीजन में अब तक 207.2 मिमी बारिश हो चुकी है। जो सामान्य से 6% कम है।


चौबीस घंटे में कहा कितनी बारिश


खंडवा 149.0, भोपाल शहर 104.6 ( पूरे भोपाल जिले में 53.7), खरगोन 79.2, धार 76.2, रायसेन 53.7, उज्जैन 42.0, नरसिंहपुर 35.0, बैतूल 32.8 मिलीमीटर बारिश हुई।


हबीबगंज अंडर ब्रिज से आवागमन किया गया बंद


- भोपाल में लगातार बारिश का गुरुवार को जन-जीवन पर असर पड़ा है। निचली बस्तियों में जलभराव हो गया। कई इलाकों में पेड़ गिरने और बिजली गुल होने की भी खबर है। जेके रोड पर करीब एक फीट पानी भरा है। पुराने शहर में भोपाल टॉकीज, भारत टॉकीज, पुष्पा नगर, महामाई का बाग, अशोका गॉर्डन, करोद की कई बस्तियों, टीला जमालपुरा में पानी भर गया है।


- नए शहर में होशंगाबाद रोड की कई कॉलोनियों में जलभराव है। कोलार में भी सड़कों पर पानी भरा होने से लोगों को घर से बाहर निकलने में दिक्कत आ रही है। हबीबगंज अंडर ब्रिज में करीब तीन फीट पानी भरा है। इस वजह से यहां से आवागमन बंद कर दिया गया है।


शाजापुर में नेशनल हाईवे-3 पर पुल की एप्रोच रोड बह गई


- तेज बारिश से शाजापुर में नेशनल हाईवे-3 पर बने नए पुल की एप्रोच रोड बह गई। इसके चलते सनकोटा से लेकर कनारदी जोड़ तक 15 किमी के हिस्से में करीब ढाई हजार वाहन 5 घंटे तक फंसे रहे। मौसम विभाग का कहना है कि इंदौर जिले में सक्रिय हुआ सिस्टम उज्जैन, शाजापुर की ओर बढ़ गया है।


- खरगोन में भी बुधवार की रातभर पानी गिरने से भीकनगांव-झिरन्या रोड बंद हो गया। इसके चलते आदिवासी क्षेत्र का पंधाना व खंडवा से संपर्क टूट गया।


- आभापुरी के पास जामरदा पुलिया का एप्रोच रोड बहने से आवागमन ठप हो गया।


- भामगढ़ के पास भाम नदी उफान पर रही। इससे पुराना रपटा डूब गया। रात 12 बजे तीन पुलिया का नाला उफान पर आ गया।


- बुरहानपुर के नेपानगर, देड़तलाई सहित अन्य क्षेत्रों में मकानों में पानी घुस गया। साजनी डेम का बैक वाटर 3 किमी तक नाले की पुलिया पर पहुंचा। इससे 10 गांवों का संपर्क टूटा। इसी मार्ग पर खंडवा से देड़तलाई और अमरावती हाईवे बंद रहा।



- निंबोला क्षेत्र में नसीराबाद-बसाड़ रोड पर सूखी नदी पर बन रही पुलिया बाढ़ से बह गई। इससे 10 से ज्यादा गांवों सहित नेपानगर का बुरहानपुर से संपर्क टूट गया।