नई दिल्ली।राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली समेत एनसीआर में इस सप्ताह के आखिर में मौसम फिर करवट लेने वाली है। मानसून सक्रिय होने से एनसीआर में 21 जुलाई से 25 जुलाई के बीच झमाझम बारिश होने की संभावना जताई जा रही है। मानसून के पिछले महीने दस्तक देने के बाद एनसीआर में जोरदार बारिश अब तक नहीं हुई है। दिल्ली में 1 जून से 18 जुलाई के बीच कुल 145.9 मिलीमीटर बारिश हुई है, जो सामान्य से 21 प्रतिशत कम है। बारिश कम होने के कारण दिल्ली सहित नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम और फरीदाबाद में गर्मी और उमस का मौसम बना रहा है, लेकिन अब मौसम का मिजाज बदलने के संकेत मिल रहे हैं। 


स्काइमेट के मौसम विशेषज्ञों के अनुसार, दिल्ली-एनसीआर में 21 जुलाई से बारिश जोर पकड़ सकती है और 25 जुलाई तक आसमान में घने बादल छाए रहेंगे और कई जगहों पर झमाझम बारिश देखने को मिल सकती है, जिससे तापमान में गिरावट आएगी। राजधानी के अधिकांश हिस्सों में दिन में पारा 31 से 34 डिग्री सेल्सियस के बीच रिकॉर्ड किया जा सकता है। 


पश्चिमी मध्य प्रदेश, दक्षिण छत्तीसगढ़ और विदर्भ के कुछ हिस्सों में मूसलधार बारिश जारी रहेगी। मध्य प्रदेश में बाढ़ की स्थिति गंभीर बनी हुई है। मध्य प्रदेश के बाकी बचे हिस्सों और गुजरात क्षेत्र में हल्की से मध्यम बारिश की उम्मीद है। स्काइमेट के अनुसार, उत्तर भारत में, मध्य पाकिस्तान और पंजाब पर एक चक्रवाती सिस्टम देखा जाता है। यह सिस्टम हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में हल्की से मध्यम बारिश देगा। कुछ स्थानों पर भारी बारिश भी हो सकती है, जिसके कारण भूस्खलन भी हो सकता है।


इस बीच, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। जबकि पूर्वी राजस्थान में कुछ स्थानों पर भारी बारिश भी हो सकती है। झारखंड और ओडिशा हल्की में मध्यम बारिश के आसार हैं। हालांकि, पूवोर्त्तर राज्यों, सिक्किम, पूवीर् उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल में बारिश में कमी आने की संभावना है। इस बीच, केरल, तटीय कनार्टक और दक्षिण कोंकण और गोवा के कुछ हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश जारी रह सकती है। मुंबई में भी हल्की बारिश जारी रहेगी।