वास्तु शास्त्र में मानव हित से संबंधित बहुत सी बातों का वर्णन देखने को मिलता है। इसमें एेसी बहुत सी चीज़ों के बारे में बताया गया है जिन्हें अगर इंसान अपने जीवन पर अपनाता है तो उसके जीवन में सुख-समृद्धि का आगमन होता है। इतना ही नहीं ये लोगों के बिगड़े जीवन को सुधार उन्हें सफलता की ओर ले जाता है। तो आईए जानते हैं वास्तु से संबंधित कुछ बातों के बारे में-



वास्तु में मिट्टी को बहुत ही महत्वपूर्ण और उपयोगी माना जाता है। माना जाता है कि मिट्टी सुख-शांति और सौभाग्य की प्रतीक होती है। कुछ धार्मिक और वैज्ञानिक कारण की मानें तो हर किसी को अपने घर में ज़्यादा से ज़्यादा मिट्टी के चीज़ों का प्रयोग करना चाहिए। मान्यता है कि इन्हें रखने से जीवन में सुख-शांति आती है, साथ ही इंसान की बुरी किस्मत अच्छी में तबदील हो जाती है।



घर-दुकान की उत्तर-पूर्वी दिशा में मिट्टी से बने पक्षी रखने से किसी तरह की नेगेटिविटी का बुरा असर नहीं पड़ता। साथ ही आपका बुरा समय अच्छे में बदल जाता है।



घर के मंदिर में भगवान की मिट्टी से बनी प्रतिमा होनी चाहिए। ऐसा होने पर कई तरह की परेशानियां दूर होती हैं और घर-परिवार में धन की कोई भी कमी नहीं होती।

घर के किचन में हमेशा एक मिट्टी का घड़ा ज़रूर होना चाहिए। मिट्टी के घड़े का पानी पीने से शरीर तो स्वस्थ रहता है साथ ही वहां पॉजिटिव एनर्जी का प्रभाव रहता है।

रोज घर और दुकान में मिट्टी के दीये जलाकर रोशनी जरूर करनी चाहिए। अगर किसी के दांपत्य जीवन में परेशानियां चल रही हैं तो उसे नियमित तुलसी के पौधे पर मिट्टी का दीया लगाना चाहिए।

मिट्टी से ही बने कुल्हड़ में चाय या लस्सी पीने से मंगल ग्रह का नकारात्मक प्रभाव कम होता है और अटके हुए जरूरी कामों में आ रही रूकावटें खत्म होती है।