भोपाल में पांच साल की बच्ची से रेप का मामला सामने आया है. एक एनआरआई मां ने स्कूल के ड्राइवर व अन्य स्टाफ के खिलाफ दिल्ली के बारहखंभा पुलिस थाने में मामला दर्ज करवाया है. दिल्ली पुलिस ने मामले को भोपाल के शाहजहानाबाद थाने में भेजा है, जहां जीरो एफआईआर के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है. पीड़िता की मां ने पूरी घटना को लेकर पीएम मोदी को भी जानकारी भेजी है.


जानकारी के अनुसार बच्ची की मां ने भोपाल के एक निजी स्कूल के स्टाफ और बस ड्राइवर पर आरोप लगाया है कि उसकी बच्ची जब चार साल की थी, तब बस के ड्राइवर और स्कूल के स्टाफ ने उसका रेप किया है. जानकारी के अनुसार पीड़ित बच्ची ने पुलिस को बताया कि कुछ लोग उसे एक खंडहर में ले गये थे, जहां उसके साथ गलत काम किया था. महिला ने बताया कि वह घटना के बाद काफी डर गई थी, जिसके चलते वह विदेश चली गई थी, लेकिन अपनी बच्ची के साथ हुए गलत काम से कुंठित होकर वह वापस लौटी और पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया.


पीड़ित बच्ची की मां ने बताया कि वह अपनी बच्ची को न्याय दिलाने के लिए भटक रही है, इसके चलते उसने पीएम नरेंद्र मोदी से लेकर सीबीआई तक से मदद मांगी है. महिला ने बताया कि उसने सबसे पहले 2017 में दिल्ली में शिकायत दी थी, जिसके बाद शाहजहानाबाद थाने में शून्य एफआईआर दर्ज की गई. उसने बताया कि बच्ची की मेडिकल रिपोर्ट में भी बच्ची के साथ ज्यादती होने की पुष्टि हुई, लेकिन पुलिस का रवैया ढीला होने के चलते आरोपियों पर कार्रवाई नहीं हो पा रही है.