कुछ लोगों की सेहत इतनी खराब हो जाती है कि उन्हें किडनी ट्रांसप्लांट करवानी पड़ती है। इसके बाद नई जिंदगी पाने का अहसास होने लगता है। वहीं, कुछ लोग कीडनी ट्रांसप्लांट के बाद बिल्कुल फिक्रमंद हो जाते हैं और लापरवाही बरतने लगते हैं। किसी भी तरह का खाना खाना शुरू कर देते हैं। इन गलतियों के कारण कई बार तो अपनी गलतियों को लेकर पछताना भी पड़ता है। एक दम से अपनी डाइट को लेकर की गई अनदेखी भारी भी पड़ सकती है। सर्जरी के बाद शरीर को पूरी तरह से सही होने में 3 से 4 महीने तक का समय लग सकता है। अपनी डाइट से जुड़े कुछ खास नियमों का पालन करना बहुत जरूरी है। 


दही

दही प्रोटीन का बहुत अच्छा स्त्रोत है। शरीर में किसी भी तरह की इंफैक्शन को दूर करने के लिए दही खाने की सलाह दी जाती है। किडनी ट्रांसप्लांट के मरीजों को भी दही खाने की सलाह दी जाती है। 


 


खट्टे आहार

सर्जरी के बाद खट्टे फल भी लाभकारी हैं। इससे शरीर जल्दी तंदुरुस्त होना शुरू हो जाता है। इस बात का ख्याल रखें कि फलों में अंगूर का सेवन न करें। यह इम्यून सप्रेसिव ड्रग्स की कार्यक्षमता को प्रभावित करता है इसलिए अंगूर का सेवन न करें। 


 


फल और सब्जियां

बैंगन,अमरूद,हरी सब्जियां, टमाटर, तरबूज आदि फल और सब्जियां कीडनी के लिए लाभकारी हैं। इन आहारों से शरीर में कोलेस्ट्रॉल और इलेक्ट्रोलाइट की मात्रा नियंत्रित रहती है।


प्रोटीन

किडनी ट्रांसप्लांट के बाद प्रोटीन से भरपूर आहार का सेवन करना सेहत के लिए फायदेमंद है। सर्जरी से पहले मरीज डायलिसिस की प्रक्रिया से गुजर चुके होते हैं इसलिए दूध,दाल आदि प्रोटीन से भरपूर आहार का सेवन करना लाभकारी है।