राज्यसभा में शुक्रवार को तीन तलाक बिल पेश नहीं होगा. सभापति वैंकेया नायडू ने कहा कि पहले (शुक्रवार को) प्राइवेट मेंबर बिल लेंगे जिस पर चर्चा होगी और 2 अन्य बिल सदन लिस्टेड थे उसमें ट्रिपल तलाक का बिल शामिल नहीं होगा.

राज्यसभा में शुक्रवार को तीन तलाक बिल पेश नहीं होगा. सभापति वैंकेया नायडू ने कहा कि पहले (शुक्रवार को) प्राइवेट मेंबर बिल लेंगे जिस पर चर्चा होगी  और 2 अन्य बिल सदन लिस्टेड थे उसमें ट्रिपल तलाक का बिल शामिल नहीं होगा. उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए किया जा रहा है क्योंकि इस पर एकमत नहीं हैं. बता दें कि 29 दिसंबर को लोकसभा में तीन तलाक से जुड़ा विधेयक पारित हो गया था, जिसमें तुरंत तीन तलाक देने को अपराध की श्रेणी में रखा गया था. तीन तलाक के कई प्रावधानों पर विपक्षी पार्टियों को एतराज है जिस वजह से विधेयक संसद में विवाद का केंद्र बना हुआ है.

 

इससे पहले गुरुवार को सरकार ने तीन तलाक से जुड़े कानून में आरोपी को सुनवाई से पहले जमानत जैसे कुछ प्रावधानों को मंजूरी दे दी. सरकार ने इस कदम से इन चिंताओं को दूर करने की कोशिश है कि तीन तलाक की परंपरा को अवैध घोषित करने और पति को तीन साल तक की सजा देने वाले कानून का दुरुपयोग किया जा सकता है.