भोपाल
14 दिसंबर को राजधानी के जंबूरी मैदान में शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री के रूप में तीसरी बार शपथ लेंगे। शिवराज कैबिनेट के अन्य मंत्रियों को 15 या उसके बाद शपथ दिलाई जाएगी। कार्यक्रम में भाजपा के प्रधानमंत्री पद के दावेदार नरेंद्र मोदी सहित पार्टी के कई ब़़डे दिग्गज नेताओं के शामिल होने की उम्मीद है। इस ऐतिहासिक समारोह में कार्पोरेट घराने के भी कई लोगों को आमंत्रित किया गया है।

सूत्रों के मुताबिक प्रदेश में भाजपा सरकार की हैटट्रिक के मौके को पार्टी जश्न के रूप में मनाना चाहती है। यही वजह है कि 14 दिसंबर को आयोजित शपथ ग्रहण समारोह को यादगार कार्यक्रम के रूप में मनाने की तैयारी जोर-शोर से की जा रही है। चौहान अकेले ही शपथ ग्रहण करेंगे। कैबिनेट के अन्य सदस्यों के लिए 15 या उसके बाद अलग से राजभवन में कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

शपथ समारोह से पहले देश के कई विद्वान पंडितों द्वारा धार्मिक विधि विधान से पूजा-पाठ कराई जाएगी। इसके बाद ही शपथ कराई जाएगी। इस समारोह में भाजपा के ब़़डे नेताओं के अलावा एनडीए के नेताओं को भी बुलाया गया है।

मुश्किल हो रहा चयन

ईधर कैबिनेट के सदस्यों का चयन मुख्यमंत्री और पार्टी पदाधिकारियों के लिए मुश्किल साबित हो रहा है। इसका कारण ब़़डी संख्या में वरिष्ठ विधायकों का निर्वाचित होना है।

 

Source ¦¦ agency