कोलकाता। किंग्स इलेवन पंजाब के तेज गेंदबाज परविंदर अवाना ने इंग्लैंड के आगामी दौरे पर नजरें टिका दी हैं और उन्हें उम्मीद है कि वे भारतीय क्रिकेट टीम में वापसी करने में सफल रहेंगे। भारत की ओर से दो टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले 27 वर्षीय दिल्ली के इस खिलाड़ी ने किंग्स इलेवन पंजाब के गेंदबाजी कोच जो डावेस को प्रभावित किया है, जिन्हें उम्मीद है कि यह तेज गेंदबाज राष्ट्रीय टीम में वापसी करेगा। अवाना ने कहा कि मेरी नजरें इंग्लैंड दौरे पर हैं। मैं एक दिन पहले ही मजाकिया लहजे में डावेस को कह रहा था कि इस आईपीएल में तीन ही मैच बचे हैं और मुझे इन सभी में खेलने दीजिए। मैं प्रत्येक मैच में पांच विकेट लूंगा और इंग्लैंड जाने वाली टीम में जगह बना लूंगा। गंभीरता से कहूं तो इस आईपीएल में आने से पहले यही मेरा लक्ष्य था कि मैं अपना कौशल और फिटनेस दिखाऊं और भारतीय टीम में वापसी की कोशिश करूं।

अवाना ने कहा कि किंग्स इलेवन पंजाब में ऑस्ट्रेलिया के दो दिग्गजों डावेस और मिचेल जॉनसन की मौजूदगी से उन्हें मदद मिली। अवाना ने कहा कि मैं उनसे काफी बात करता हूं। ईमानदारी से कहूं तो टूर्नामेंट के शुरुआती मुकाबलों में मेरी गति कम हो गई थी और मैं उतना प्रयास नहीं कर पा रहा था जितना करने की जरूरत थी। तभी डावेस ने मुझे बैठाकर मेरी क्षमता याद दिलाई।

Source ¦¦ agency