आईपीएल-7 के फाइनल में कोलकाता ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी है.

किंग्स इलेवन पंजाब की निगाहें कोलकाता नाइटराइडर्स पर जीत दर्ज कर पहली ट्राफी हासिल करने पर लगी हैं.

विवादों से प्रभावित कुछ सत्र के बाद आईपीएल आयोजक अंतत: राहत की सांस ले रहे होंगे कि मौजूदा सत्र बिना किसी मुसीबत के निकल गया और सभी का ध्यान फिर से क्रिकेट पर लगा है.

अनुभवी सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने 58 गेंद में 122 रन की शतकीय पारी खेलकर किंग्स इलेवन पंजाब को पहली बार आईपीएल के फाइनल में पहुंचा दिया. वह ग्लेन मैक्सवेल और डेविड मिलर के साथ केकेआर के लिये सबसे बड़ा खतरा होंगे, जो सुनील नारायण की अगुवाई वाली मजबूत गेंदबाजी इकाई पर निर्भर होगी.

दोनों टीमों के खिलाड़ी अपने टीम मालिकों शाहरूख खान और प्रीति जिंटा को आईपीएल खिताब भेंट स्वरूप देना चाहेंगे.

कोलकाता की टीम एक बार पहले भी खिताब हासिल कर चुकी है और दूसरी बार इसे जीतना चाहेगी, लेकिन पंजाब की टीम कभी भी फाइनल का हिस्सा नहीं बनी.

टीमें
केकेआर: गौतम गंभीर, मनीष पांडे, सूर्यकुमार यादव, रायन टेन डोईशाटे, शकिब अल हसन, युसुफ पठान, रॉबिन उथप्पा, मोर्ने मोर्कल, पीयुष चावला, सुनिल नारायण, उमेश यादव.

मोहाली: डेविड मिलर, जॉर्ज बेली, मनन वोहरा, विरेंद्र सहवाग, अक्षर पटेल, ग्लेन मॅक्सवेल, करणवीर सिंह,  वृद्धिमान सहा,  लक्ष्मीपती बालाजी, मिचेल जॉनसन, पर्विंदर अवाना.

Source ¦¦ agency