Wednesday, September 28, 2022
Homeदेशराहुल की भारत जोड़ो यात्रा महज एक सप्ताह में 7 बार विवादों...

राहुल की भारत जोड़ो यात्रा महज एक सप्ताह में 7 बार विवादों में घिरी

नई दिल्ली  । कांग्रेस पार्टी को मजबूत आधार देने और जनता से जुड़ने के लिए कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में 'भारत जोड़ो' यात्रा का सिलसिला जारी है। 150 दिनों तक चलने वाली इस यात्रा का मंगलवार को सातवां दिन है। अगर एक सप्ताह के ही इस सफर को देखें, पार्टी महज अब तक करीब 7 बार विवादों में आ चुकी है। पार्टी पर भारतीय जनता पार्टी के हमले जारी हैं। इधर, कांग्रेस भी लगातार पलटवार कर रही है। यात्रा के दौरान राहुल गांधी कंटेनर में रहेंगे। ट्रकों पर सजे इन 60 कंटेनर में यात्रा के स्थायी यात्री यानी कन्याकुमारी से जम्मू-कश्मीर तक का सफर तय करने वाले नेता रहेंगे। खबरें थी कि इनमें से एक कंटेनर में राहुल रहेंगे। जबकि, बचे हुए कंटेनर अन्य नेता शेयर करेंगे। आरोप लगाए गए थे कि कांग्रेस ने इन कंटेनर में नई सुविधाएं शामिल की हैं। हालांकि, कांग्रेस इनमें बुनियादी सुविधाएं होने के बात कह रही है।
एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दो बिस्तरों वाले कंटेनर में रहेंगे। जबकि, अन्य कार्यकर्ताओं को 6 या 12 बिस्तरों वाले कंटेनर में रहना होगा। इन सभी में टॉयलेट शामिल है, लेकिन कुछ में ही एसी लगा हुआ है। यात्रा शुरू होने के तीसरे ही दिन भाजपा और कांग्रेस में राहुल गांधी की टीशर्ट को लेकर बहस शुरू हो गई थी। भाजपा ने दावा किया था कि महंगाई का मुद्दा उठा रहे वायनाड सांसद शुक्रवार को 41 हजार 257 रुपये की टी-शर्ट पहने हुए हैं। भाजपा ने ट्विटर पर इससे जुड़े फोटो भी शेयर किए थे। कांग्रेस का कहना था कि केंद्र में सत्तारूढ़ दल भारत जोड़ो यात्रा को मिल रहे समर्थन से डरा हुआ है।
भारत जोड़ो यात्रा के शुरुआती पड़ाव यानी तमिलनाडु में राहुल ने पादरी जॉर्ज पोन्नया से मुलाकात की थी। खास बात है कि पोन्नया विवादित बयानों के लिए जाने जाते हैं। भाजपा के प्रवक्ता शहजाद पूनावाला का कहा, 'उन्हें पहले भी कट्टर टिप्पणी के लिए गिरफ्तार किया जा चुका है। जब उन्होंने कहा था 'मैं जूते इसलिए पहनता हूं, ताकि भारत माता की अशुद्धियां हमें दूषित न कर दें'।' पादरी को जुलाई कल्लीकुड़ी में गिरफ्तार किया गया था। कांग्रेस ने ट्वीट के जरिए राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ पर निशाना साधा था। पार्टी ने एक फोटो पोस्ट की थी, जिसमें संघ की यूनिफॉर्म का हिस्सा रहे निक्कर को जलता हुआ दिखाया गया था। इसपर भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने सवाल उठा दिए थे। उन्होंने कहा था, 'उनकी पहले जलाई हुई आग ने अधिकांश भारत को जला दिया था। राजस्थान और छत्तीसगढ़ में बचे हुए सदस्य भी जल्दी जलकर खाक हो जाएंगे।'
मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, केरल के दो क्रांतिकारियों गांधीवादी केई मेमन और पद्मश्री पी गोपीनाथन नायर के स्मारक का अनावरण होना था। यह कार्यक्रम तिरुवनंतपुरम स्थित एनआईएमएस अस्पताल में किया जाना था। खबर है कि परिवार की तरफ से केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रमुख सुधाकरण की मौजूदगी में राहुल को निमंत्रण भी दिया गया था। इस कार्यक्रम से राहुल गायब रहे। रिएक्शन यह हुआ कि सुधाकरण को क्रांतिकारियों के परिजनों से माफी मांगनी पड़ी। कांग्रेस की यात्रा का मौजूदा चरण केरल है। खबर है कि यहां पार्टी करीब 19 दिनों तक पदयात्रा करेगी और 450 किमी की सफर तय करेगी। अब कांग्रेस की इस यात्रा पर केरल में सत्तारूढ़ सीपीएम के नेता सवाल उठा रहे हैं। वाम दल का कहना है कि कांग्रेस को भाजपा शासित राज्यों में ज्यादा ध्यान देना चाहिए। सीपीआई (एम) ने ट्वीट किया कि केरल में 19 और उत्तर प्रदेश में 2, यह भाजपा और आरएसएस से लड़ने का अजीब तरीका है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments