रात को अचानक नींद खुल जाना नहीं है कोई आम बात, आत्माएं देती हैं ये गंभीर संकेत… जान पर भी बन आ सकती है बात

अक्सर ऐसा होता है कि कई लोगों की नींद रात में अचानक खुल जाती है. कभी कभार ये घबराहट या ज्यादा तनाव के कारण भी होता है लेकिन अगर ऐसा बार बार हो रहा है तो ये एक गंभीर सिचुएशन हो सकती है.

माना जाता है कि रात में बार बार यूं नींद खुलना कोई मामूली बात नहीं है बल्कि ऐसा होना इस बात को दर्शाता है कि आत्माएं आपसे संपर्क करने की कोशिश कर रही हैं आपको कुछ बताना चाहती हैं. ऐसे में आपको सावधान रहने की सख्त जरूरत होती है क्यों बात आपकी जन पर भी बन आ सकती है. हालांकि, अलग अलग समय पर नींद खुलने का अलग अलग मतलब होता है. ऐसे में चलिए जानते हैं कि रात में किस वक्त नींद खुलना किस बात का संकेत देता.

रात 9 से 11 बजे के बीच नींद का टूटना
यदि आपकी नींद रोज रात को 9 से 11 बजे के बीच खुल जाती है लाख कोशिशों के बावजूद भी नींद नहीं आती है तो वह व्यक्ति किसी बात को लेकर अधिक चिंतित है वह उस मसले पर ज़रुरत से ज़्यादा सोच रहा है. इसलिये ऐसे में ठंडे पानी से चेहरे को धोकर सकारात्मक मंत्रों का जाप करें. इस क्रिया को नियमित करें। इससे न केवल आपको तनाव से छुटकारा मिलेगा बल्कि आप एक अच्छी नींद भी ले सकेंगे.

रात 11 से 1 बजे के बीच नींद का टूटना
यदि आप रात्रि 11 से 1 बजे के बीच में अचानक सोते हुए उठ जाते हैं तो आप किसी बात को लेकर बहुत ज्यादा परेशान हैं. इसके अलावा आपका मन इधर-उधर भटक रहा है तो आप जितना हो सके खुद पर भरोसा रखें सोने से पहले अपने दिमाग से सभी नेगेटिव चीजों को निकाल दें. ये समस्याएं आपके पित्ताशय को प्रभावित कर सकती है.

रात 12 से 2 के बीच नींद का टूटना
यदि आपकी नींद हर रात इस दौरान खुलती हैं तो इसका मतलब हो सकता है कि कोई अनजान शक्ति आपके आसपास रहकर आपसे संपर्क करने की कोशिश कर रही है जो आपको जीवन के उद्देश्यों के प्रति जागरूक कर रही है. लेकिन इससे आपकी जान को खतरा भी हो सकता है क्योंकि संपर्क करने वाली अनजान शक्ति सकारात्मक है या नकारात्मक इस बात का पता नहीं चलता.

रात 1 से 3 बजे के बीच नींद का टूटना
रात्रि 1 से 3 बजे के बीच अचानक आँख खुले तो यह व्यक्ति के ग़ुस्से की ओर संकेत करता है. इस समस्या से निजात पाने के लिये आप ठंडे पानी पी लें ऐसी समस्या से निपटने के लिए आप सोने से पहले अपने हाथ-पैर धो लें. ऐसा नियमित करने से आपको सकारात्मक परिणाम मिलेंगे.

रात को 3 बजे नींद का टूटना
यदि आपकी नींद 3 बजे के करीब अचानक रोज खुलती है तो इसका मतलब यह है कि सृष्टि व दिव्यशक्ति चाहती हैं कि आप उठे अपने इष्टदेव की अराधना करें, आप परमात्मा का जाप करें क्योंकि बहुत सारी शक्तियां आपका इंतजार कर रही है जो कि आपको मिलनी है.

रात को 3 बजे से सुबह 5 के बीच नींद का टूटना
रात 3 से 5 के बीच जिन लोगों की नींद रात 3 से 5 बजे के बीच खुलती है तो इसका मतलब होता है कि अनजान शक्ति आपके संपर्क करने की आप पर हावी होने की कोशिश कर रही है.

सुबह 5 से 7 बजे के बीच नींद का टूटना
यदि आप सुबह 5 से 7 बजे के बीच जागते हैं तो कोई चीज़ आपको भावनात्मक रूप से रोकती है. इस दौरान जागने वाले लोग इमोशनली बहुत कमजोर माने जाते हैं. इस परिस्थिति में आपको ध्यान क्रिया करनी चाहिए.
 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button