Tuesday, December 6, 2022
Homeमध्यप्रदेशमप्र में भारत जोड़ो यात्रा निकलते ही चुनावी मैदान में उतरेगी कांग्रेस

मप्र में भारत जोड़ो यात्रा निकलते ही चुनावी मैदान में उतरेगी कांग्रेस

भोपाल । प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले मप्र में कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा निकल रही है। इसी महीने 20 दिन बाद मप्र में आ रही यात्रा प्रदेश में 382 किमी चलेगी। राहुल की इस यात्रा से कांग्रेस को मप्र में सरकार में लौटने की उम्मीद है। यात्रा निकलते ही पूरी कांगे्रस चुनाव मैदान में उतर जाएगी। साथ ही यात्रा के लिए जिन नेताओं को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने जिम्मेदारी सौंपी हैं, वे नेता विधानसभा में भी बड़ी भूमिका निभाएंगे।प्रदेश में राहुल गांधी की 382 किलोमीटर की भारत जोड़ो यात्रा 20 नवंबर को प्रवेश करेगी। इसके माध्यम से कांग्रेस मालवा और निमाड़ क्षेत्र में अपनी पकड़ मजबूत करने में जुटी है। साथ ही अन्य क्षेत्रों को भी यात्रा से जोड़ा जाएगा। इसके चलते प्रदेश कांग्रेस ने यात्रा को लेकर सभी संभागों के प्रभारी नियुक्त कर दिए हैं।

मालवा-निमाड़ में ये संभालेंगे जिम्मेदारी
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ ने मतदान केंद्र स्तर तक पार्टी कार्यकर्ताओं को सक्रिय करने की जिम्मेदारी पार्टी के वरिष्ठ नेता कांतिलाल भूरिया, अरुण यादव, सज्जन सिंह वर्मा, बाला बच्चन और रवि जोशी को सौंपी है। पिछले चुनाव में पार्टी को मालवांचल के खरगोन, बड़वानी, झाबुआ, आलीराजपुर और धार में अच्छे परिणाम मिले थे। हालांकि, ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ इन क्षेत्रों के कुछ विधायकों ने पार्टी छोड़ दी थी और उपचुनाव में कांग्रेस छह सीटें हार गई थी।

प्रदेश भर में निकाली जा रहीं 17 उप यात्राएं
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ ने मतदान केंद्र स्तर तक के कार्यकर्ताओं को इससे जोडऩे की कार्ययोजना बनाई है। 17 उपयात्राएं निकाली जा रही हैं। इसमें वे सभी जिले शामिल हैं, जो यात्रा मार्ग में नहीं आते हैं। उपयात्राओं का समन्वय और निगरानी का काम पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह को दिया गया है। पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को मालवा और निमाड़ क्षेत्र में बढ़त मिली थी। यहां के 66 विधानसभा क्षेत्रों में से 36 पर कांग्रेस ने जीत हासिल की थी। भाजपा को खरगोन, बुरहानपुर, झाबुआ और आलीराजपुर जिले में एक भी सीट नहीं मिली थी। हालांकि, नवंबर 2020 में हुए उपचुनाव में कांग्रेस को छह सीटों पर पराजय का सामना करना पड़ा था। पार्टी 2018 के चुनाव परिणाम फिर दोहराने की के लिए यात्रा की तैयारियों के माध्यम से मैदानी जमावट में जुटी है। क्षेत्र के सभी प्रमुख सामाजिक संगठन और प्रबुद्ध नागरिकों की सूची तैयार की जा रही है, जिनसे राहुल गांधी संवाद करेंगे। जिला और ब्लाक इकाइयों के साथ सभी सहयोगी संगठनों की टीमों को मतदान केंद्र स्तर के लक्ष्य दिए गए हैं।

मप्र में हिन्दुत्व को भी साधने की कोशिश
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष यात्रा के माध्यम से हर वर्ग को साधने का जतन कर रहे हैं। उन्होंने यात्रा में बुरहानपुर में बोहरा समाज के तीर्थ दरगाह ए हकीमी, खंडवा में ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग और मां नर्मदा की पूजा-अर्चना, धूनीवाले दादा की समाधि और महू में डा.भीमराव आंबेडकर की जन्मस्थली को शामिल करना प्रस्तावित किया है। इस पर निर्णय आना अभी बाकी है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

Join Our Whatsapp Group