• क्राइम ब्रांच की टीम ने डुमस गांव से सलमान उर्फ अमन मोहम्मद हनीफ झवेरी को अरेस्ट किया है
  • मुंबई से तस्करी कर सूरत लाई गई थी ड्रग्स। आदिल नाम के एक आरोपी को वांटेड जाहिर किया गया है

ड्रग्स को लेकर बॉलीवुड और मुंबई में हड़कंप मचा हुआ है। एनसीबी की टीम बड़े पैमाने पर ड्रग पैडलरों को गिरफ्तार कर रही है। वहीं, सूरत में भी ड्रग्स तस्करी का मामला सामने आया है। क्राइम ब्रांच की टीम ने मंगलवार को खुफिया सूचना पर डूमस से एक किलो 10 ग्राम एमडी ड्रग्स बरामद की थी। इसके बाद पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए इस मामले में तीन आरोपियों को आज अरेस्ट कर लिया। बरामद ड्रग्स की की कीमत करीब 1 करोड़ 33 लाख रुपए है।

मुंबई से मेफेड्रोन ड्रग्स लेकर सूरत आया था

पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी मुंबई से मेफेड्रोन ड्रग्स लेकर सूरत आया था। क्राइम ब्रांच ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। ज्ञातव्य है कि पिछले एक साल में सूरत शहर में एमडी ड्रग्स के सात जत्थे पकड़े गए। इसे मुंबई से तस्करी करके सूरत में बेचने के लिए लाया गया था। क्राइम ब्रांच की टीम ने डुमस गांव से सलमान उर्फ अमन मोहम्मद हनीफ झवेरी को अरेस्ट किया है। वहीं, आदिल नाम के उसके एक साथी को वांटेड जाहिर किया गया है। सलमान के पास से ही 1011.82 ग्राम एमडी ड्रग्स सहित बरामद की थी। ड्रग्स रखी जब्त कार में डिजिटल वजन कांटा भी मिला है। इसके अलावा सूरत के वराछा इलाके से विनय उर्फ बंटी किशोरभाई पटेल और संकेत असलालिया को भी अरेस्ट कर लिया गया है।


दबिश: शहर में दो और जगहों से ड्रग्स पकड़ाया
पुलिस द्वारा शहर भर में स्पेशल कॉम्बिंग करके ड्रग्स के जत्थे को पकड़ा जा रहा है। डुमस के अलावा शहर में दो और जगहों पर एमडी ड्रग्स का जत्था पकड़े जाने की जानकारी मिली है। इसके अलावा मुंबई से भी किसी पैडलर को पकड़कर सूरत लाए जाने की बात पुलिस महकमे में चल रही है।

सितंबर में चौथी कार्रवाई 1 किलो ड्रग्स जब्त किया
पुलिस द्वारा सितंबर में एमडी ड्रग्स पकड़ने की ये चौथी कार्रवाई है। पिछले 18 दिनों में 1 किलो 180 ग्राम एमडी ड्रग्स बरामद किया है। इसकी कीमत एक करोड़ 10 लाख रुपए तक आंकी गई है। जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार किया। ज्ञातव्य है कि शहर में बड़े पैमाने पर एमडी की खरीद-फरोख्त हो रही है।

तस्करी: पिछले 14 महीने में आठवां मामला
पिछले 14 महीने में ड्रग्स तस्करी का ये आठवां मामला है। 19 सितंबर को सोहम सर्किल से दो पैडलर पकड़े गए थे। 9 सितंबर को डिंडोली से 3 लाख का ड्रग्स मिला था। 5 सितंबर को पूणा पुलिस ने ड्रग्स पकड़ा था। 20 अगस्त को एसओजी ने रांदेर से ड्रग्स बरामद किया था।

1 मार्च से एयरपोर्ट के सामने आशीर्वाद फार्म हाउस में चल रही लीप ईयर पार्टी में ड्रग्स मिला था। 4 दिसंबर 2019 को एसओजी ने 5 लाख का ड्रग्स बरामद किया था। इससे पहले 12 जुलाई 2019 को एसओजी ने भागातलाव से 9.80 लाख रुपए कीमत का एमडी ड्रग्स जब्त किया था। अब तक कई ड्रग पैडलर भी पकड़े गए हैं।