करनाल पुलिस ने ट्रांसफर चोरी करने वाले तीन गिरोहों का पर्दाफाश किया है। इन तीनों गिरोहों के कुल 12 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वो दिन में ट्रांसफार्मरों की लोकेशन देखते थे। रात में 4-5 ट्रांसफार्मर को औजारों से खोलकर या काटकर उसमें से तांबा या दूसरी चीजें जैसे तेल आदि चोरी करके गाड़ी में भरकर फरार हो जाते थे। पुलिस प्रवक्ता कहना है कि विभिन्न शिकायतों के चलते चोरों को पकड़ने के लिए डिटैक्टिव स्टाफ करनाल के इंस्पेक्टर हरजिंद्र सिंह ने एसआई नारायण सिंह, एएसआई राजकुमार और एएसआई राजेंद्र सिंह की कमान में टीमों का गठन किया।

एसआई राजकुमार की टीम ने 12 अक्टूबर को सहारनपुर के गांव तिलहर के मोहम्मद , दिल्ली के न्यू सीलमपुर निवासी खलील खान, मेरठ के गांव बन्ना निवासी पप्पन को गांव घोघड़ीपुर से गिरफ्तार किया। रिमांड के दौरान आरोपियों ने अपने गिरोह के दो अन्य साथियों के रूप में दिल्ली के प्रताप नगर वासी महेंद्र, गाजियाबाद के सुरेंद्र उर्फ सोनू के नाम बताए। इन दोनों को 15 और 18 अक्टूबर को दिल्ली से गिरफतार किया गया, वहीं साथ ही दूसरे गिरोहों का भी खुलासा हुआ। रिमांड के दौरान आरोपियों से दिल्ली के नम्बर की 2 मारुति ईको, ट्रांसफार्मर खोलने वाले औजार की किट, 30 किलो क्वायल तांबा बरामद किया गया है।

एएसआई राजेंद्र सिंह की टीम ने 14 अक्टूबर को गुप्त सूचना के आधार पर बुलंदशहर जिले के गांव गुलावहटी निवासी बंटी, बादली-मेरठ रोड स्थित गांव इतौली के जोनी को गिरफ्तार किया। इनकी निशानदेही पर 18 अक्टूबर को गोंडा के झामपुरखा निवासी कबाड़ी मुन्ना को करनाल से, बुलंदशहर के गांव खानपुर के फरमान अली को घेवरा मोड़ दिल्ली से गिरफ्तार किया गया। रिमांड के दौरान इनसे दिल्ली के नम्बर की 2 मारुति ईको गाड़ियां, ट्रांसफार्मर खोलने वाले औजार की किट, 18 किलो क्वायल तांबा बरामद किया गया।

इसी तरह एसआई नारायण सिंह की टीम ने 16 अक्टूबर को करनाल के बड़सालू में रह रहे उत्तर प्रदेश के गांव अलेवा निवासी पवन कुमार, बड़सालू के शैलेंद्र कुमार को तो उनकी निशानदेही पर 18 अक्टूबर को दिल्ली में किराये पर रह रहे बदायूं के हचानी निवासी कबाड़ी मुकीम अंसारी को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया। आरोपियान को पेश अदालत किया जाकर रिमाण्ड लिया गया। इनसे 1 ईको गाड़ी, एक ट्रांसफार्मर खोलने वाली किट और 12 किलो तांबे की क्वायल बरामद की गई हैं। सोमवार को इन सभी को एक साथ कोर्ट में पेश करके आगे की पूछताछ का क्रम शुरू कर दिया गया है।