गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति ने ढाई साल बाद फिर अड्डा गांव में बुलाई महापंचायत में दोपहर तक करीब एक हजार लोग सभा स्थल पर पहुंचे हैं। इसमें 80 गांवों के लोगों को बुलाया गया है। कर्नल बैंसला के दोपहर बाद सभसस्थल पहुंचने का कार्यक्रम है। महापंचायत से जुड़े लोगों का दावा है कि करीब 20 हजार लोग शामिल होंगे, पर प्रशासन का मानना है कि करीब पांच हजार लोग जुट सकते हैं।

इधर, सरकार ने जिला कलेक्टर नथमल डिडेल के जरिए संयोजक कर्नल किरोड़ी बैंसला को वार्ता का प्रस्ताव भेजा है। इसकी पुष्टि जिला कलेक्टर नथमल डिडेल ने की है। मगर कर्नल बैंसला ने शुक्रवार देर रात तक कोई जवाब नहीं दिया था। इधर, प्रशासन ने बयाना, बैर, भुसावर, रूपवास समेत कई जगह शुक्रवार रात 12 बजे से इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गईं। 2350 जवान तैनात किए गए हैं।

सरकार ने देर रात कर्नल बैंसला से बातचीत के लिए आईएएस नीरज के पवन को विशेष दूत के तौर पर भेजा। शुक्रवार देर रात नीरज भरतपुर के एसपी और कलेक्टर के साथ हिंडौन सिटी स्थित कर्नल बैंसला के आवास पर पहुंचे। पवन ने कर्नल बैंसला को सरकार की तरफ से वार्ता के लिए न्योता दिया।

वहीं, गुर्जरों की मांगें मानने के लिए सरकार का मसौदा बताया। आईएस नीरज भरतपुर व करौली के कलेक्टर रह चुके हैं। वे सीएम गहलोत के साथ-साथ बैंसला के भी निकट समझे जाते हैं और पूर्व के कई गुर्जर आंदोलनों में मध्यस्थ की भूमिका निभा चुके हैं।

एसपी अमनदीप सिंह ने बताया कि 6 एएसपी, 12 डीवाईएसपी सहित पुलिस के करीब 2100 जवान तैनात किए गए हैं। सभी पुलिसकर्मियों के अवकाश रद्द कर दिए गए हैं। इसके अलावा रेलवे ट्रैक की सुरक्षा के लिए 100 आरएएफ व 150 जीआरपी के जवान तैनात किए गए हैं। गैंगमैन को अलर्ट किया गया है।

महापंचायत पर शुक्रवार को शेरगढ़ गांव स्थित राजेश पायलट स्कूल परिसर में गुर्जर समाज की बैठक हुई। सभी ने एकसुर में महापंचायत को सफल बनाने तथा मांगों के लिए सरकार पर दबाव बनाने की बात कही। कई वक्ताओं ने आंदोलन की कमान बैंसला के पुत्र विजय बैंसला के संभालने पर नाराजगी दिखाई।