ऑक्सीजन की कमी से गईं 5 जानें, सरकार ने भिलाई स्टील प्लांट से 60 टन ऑक्सीजन सप्लाई का किया करार

मध्य प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच ऑक्सीजन और रेमडेसिविर के इंजेक्शन की कमी से हालात बदतर हो रहे हैं। ऑक्सीजन की कमी से 48 घंटे में सागर में 4 और खरगोन में 1 कोरोना मरीज की मौत हो गई। ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने के लिए राज्य सरकार ने भिलाई स्टील प्लांट से करार किया है। हर रोज प्लांट से 60 टन ऑक्सीजन की सप्लाई होगी। इस बीच पिछले 24 घंटे में पूरे एमपी में कोरोना से 13 मरीजों की मौत हुई है।

पहली खेप अगले एक-दो दिन में मिलने की उम्मीद है। भोपाल कलेक्टर ने जिले में चल रहे प्लांट 24 घंटे चालू रखने के आदेश जारी कर दिए हैं। 24 घंटे में 4043 केस मिले हैं। प्रदेश के 4 बड़े शहर इंदौर, भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर में ही 50 फीसदी संक्रमित आए हैं।

सभी शहरों में संडे लॉकडाउन, सरकारी दफ्तर 5 दिन ही खुलेंगे

प्रदेश में 7 अप्रैल तक एक्टिव केस की संख्या 27 हजार से ज्यादा हो चुकी थी। जबकि कोरोना की पहली लहर में एक्टिव केस का आंकड़ा 21 हजार से आगे नहीं बढ़ पाया था। राज्य सरकार ने मध्य प्रदेश के सभी शहरों में संडे लॉकडाउन का ऐलान कर दिया है। सभी सरकारी दफ्तर अगले 3 महीने तक सप्ताह में केवल 5 दिन ही खुलेंगे। इनकी टाइमिंग सुबह 10 से शाम 6 बजे तक रहेगी। शनिवार और रविवार दफ्तर पूरी तरह बंद रहेंगे। प्रदेश के सभी शहरी क्षेत्रों में आज गुरुवार से अगले आदेश तक रोजाना रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा। छिंदवाड़ा जिले में रात 8 बजे से अगले 7 दिन तक टोटल लॉकडाउन रहेगा।

CM शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार शाम को आपात बैठक में चर्चा के बाद यह फैसला लिया। बैठक में यह भी तय किया गया कि क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की सहमति लेकर कलेक्टर शहरी क्षेत्र में रविवार के अलावा शनिवार को भी लॉकडाउन का आदेश जारी कर सकते हैं। प्रदेश के अधिक संक्रमित शहरी क्षेत्रों में कंटेनमेंट ज़ोन बनाए जाएंगे कंटेनमेंट एरिया में 7 से10 दिन तक का लाॅकडाउन लगाया जा सकेगा।

12 फीसदी पर संक्रमण दर, छोटे शहरों में भी 100 से अधिक केस

पिछले 24 घंटे में रिकाॅर्ड 4,043 पॉजिटिव केस मिले हैं। हालात बिगड़ने का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि पॉजिटिविटी रेट 12% पहुंच गया है। मौतों का आंकड़ा 4086 हो गया है। भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर के बाद अब बड़वानी, उज्जैन और उमरिया में 100 से अधिक केस मिले हैं।

 

इंदौर: रेमडेसिविर के इंजेक्शन के लिए मारामारी

इंदौर के दवा बाजार में रेमडेसिविर इंजेक्शन के लिए लगी लंबी लाइन।

इंदौर में कोरोना के कहर का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है, हॉस्पिटल में बेड की किल्लत के बाद अब रेमडेसिविर के इंजेक्शन के लिए भी हाहाकार मच रहा है। एक इंजेक्शन के लिए लोग सुबह से ही लाइन में लग रहे हैं। भीड़ इतनी कि धक्का-मुक्की की स्थिति बन रही है। पुलिस तक को आकर स्थिति को संभालना पड़ रहा है। दुकान पर लिखा है 'रेमडेसिविर इंजेक्शन का स्टाॅक नहीं है। आने पर सबको दवाई मिलेगी।' इंदौर के अलावा उज्जैन और भोपाल तक के लोग यहां इंजेक्शन की खोज में भटक रहे हैं।

जबलपुर: रिटायर्ड जस्टिस की संक्रमण से गई जान

बुधवार को 298 संक्रमितों और दो मौत की पुष्टि की गई है। 2232 सैंपल की जांच की गई थी। यहां रिटायर्ड जस्टिस गुलाब गुप्ता की कोरोना से मौत हो गई। जिले में कोरोना रिकवरी रेट अक्टूबर के बाद पहली बार 90 से नीचे 89.84 प्रतिशत पर आ गया। जिले में कुल एक्टिव केस 1841 हो गए हैं। कुल 10 कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं।

ग्वालियर: 225 केस मिले, 7 महीने बाद दोहरा शतक

ग्वालियर में 24 घंटे में 225 कोरोना संक्रमित मिले हैं। 7 महीने बाद शहर में कोरोना संक्रमितों ने दोहरा शतक मारा है। आखिरी बार सितंबर महीने में इतनी संख्या में संक्रमित मिले थे। इसके साथ ही बुधवार को 2 संक्रमित की मौत भी हुई है। लगातार संक्रमण बढ़ता जा रहा है। इस तरह के हालात रहे तो अभी एक दिन के लॉकडाउन को आगे भी बढ़ाया जा सकता है।