वडोदरा. 21.80 लाख की धोखाधड़ी के मामले में वारसिया पुलिस ने बंगलामुखी मंदिर के प्रशांत उपाध्याय की वापी से गिरफ्तार किया है। उससे सख्ती से पूछताछ की जा रही है।


पुलिस ने टीम बनाकर की थी तलाश
बगलामुखी ब्रह्मास्त्र मंदिर के गुरु प्रशांत उपाध्याय अंडरग्राउंड हो गया था। इसलिए पुलिस ने उसकी तलाश के लिए कई टीमें बनाई। प्रशांत पर 21.80 लाख रुपए की धाेखाधड़ी का आरोप था। इसके अलावा मंदिर से एक युवक पिछले 3 साल से लापता हो गया था। तब उसकी मां ने वारसिया पुलिस स्टेशन में प्रशांत के खिलाफ रिपोर्ट लिखवाई थी। रिपोर्ट में किरण बेन गुरुमुख और कोमल उर्फ पिंकी गुरुमुखभाई के भी नामों का उल्लेख था।


प्रशांत का वीडियो वायरल हुआ था
बगलामुखी मंदिर के गुरु प्रशांत का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था,जिसमें वह महिलाओं-युवतियों से अपने पांव धुलवा रहा है। दूध-पानी से धुलवाए पांव का वह पानी लोगों को प्रसाद के रूप में बांटता था। इसके बाद उसके ही अनुयायियों ने उस पर अनेक आरोप लगाए थे।