मुरादाबाद मूंढापांडे थाना क्षेत्र के सिहोराबाजे गांव में रेलवे कर्मी की हत्या कर शव फेंक दिया गया था। सोमवार को पुलिस ने इस मामले में दो आरोपित युवकों को गिरफ्तार कर इस मामले का पर्दाफाश किया। अवैध प्रेम संबंध से नाराज होकर महिला के बेटे ने दोस्त के साथ मिलकर रेलवे कर्मी की हत्या की थी। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया।

एसपी सिटी अखिलेश भदौरिया ने बताया कि सिहोराबाजे गांव निवासी प्रकाश रेलवे लाइन पर कूड़ा बीनने का काम करता था। इसी दौरान उसकी मुलाकात रेलवे गेट पर तैनात कीमैन भोले से हो गई थी। बीते लगभग 10 साल से भोले का प्रकाश के घर पर आना-जाना था। इस दौरान भोले ने प्रकाश की गरीबी का फायदा उठाते हुए उसकी पत्नी से अवैध संबंध बना लिए। बीते एक साल से प्रकाश की पत्नी उसके सरकारी क्वार्टर में जाने लगी थी। गांव में चर्चा आम होने पर बेटे मुकेश ने मां की निगरानी शुरू कर दी। इस दौरान उसने कई बार दोनों को आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया। जब उसने इसका विरोध किया तो उल्टे मां ही बेटे को रेलवे कर्मी का नाम लेकर डराने लगी। इस बात से नाराज होकर मुकेश ने रेलवे कर्मी की हत्या की साजिश रच डाली। इस साजिश में उसने अपने करीबी दोस्त सुरेंद्र सैनी को भी शामिल कर लिया। पुलिस के अनुसार मुकेश अपने मामा के घर सम्भल में रहकर मजदूरी करता था। वह 14 दिसंबर को शादी समारोह में शामिल होने के लिए रामपुर गया था। मुकेश को गांव से जानकारी हुई की भोले घर पर ही रुका है। इसके बाद मुकेश ने अपने दोस्त सुरेंद्र को बुलाया। इसके बाद दोनों ने गांव के बाहर पहुंचकर शराब पी। शराब के नशे में ही मुकेश ने सुरेंद्र को घर भेजकर भोले को रात में 12 बजे गांव के बाहर प्लाट में शराब पीने के लिए बुलाया। इसके बाद तीनों ने वहां पर शराब पी। जब भोले नशे में धुत हो गया तो मुकेश ने उसे जमीन पर गिरा लिया और उसकी बेल्ट से ही गला घोंट दिया। इस दौरान सुरेंद्र ने भोले के पैर पकड़ रखे थे। बेहोश होने पर दोनों उसे खींचकर आलू के खेत में ले गए। वहां जाकर देखा तो पता चला कि भोले की सांस चल रही है। इसके बाद फिर मुकेश ईंट उसके सिर पर कई वार करके चेहरे बिगाड़ने का प्रयास किया, ताकि पहचान हो सके। हत्या करने के बाद दोनों आरोपितों ने रेलवे कर्मी के कपड़े की जेब में मिले आधार और पैन कार्ड और खून सनी ईंट को झाड़ियों में छिपा दिया। शव को उठाकर कूड़े के ढेर में दबा दिया। पुलिस ने आरोपितों की निशानदेही पर पुलिस ने ईंट, आधार पैन कार्ड बरामद कर लिया।