वल्लभगढ़ । हरियाणा के वल्लभगढ़ में दिनदहाड़े परीक्षा देकर घर लौट रही बी.कॉम फाइनल ईयर की छात्रा निकिता तोमर 20 वर्षीय की गोली मारकर हत्या कर दी गई, जिसके बाद बवाल जारी है। हरियाणा के वल्लभगढ़ में छात्रा निकिता की हत्या मामले में मुख्य आरोपी तौसिफ तौसीफ और उसके दोस्त रेहान को गिरफ्तार कर लिया गया है। निकिता हत्याकांड के दो दिन बाद इस हत्या की वजह सामने आ गई है। निकिता के हत्यारोपी तौसीफ ने पुलिस की पूछताछ में अपना जुर्म कुबूल कर लिया है और उसने बताया है कि आखिर इस दर्दनाक वारदात को अंजाम क्यों दिया। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो आरोपी तौसिफ निकिता से शादी करना चाहता था, मगर उसकी शादी कहीं और हो रही थी, जिस वजह से उसने उसकी दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो हत्या के पीछे साल 2018 की एक घटना है। पुलिस पूछताछ में हत्यारोपी तौसिफ ने कथिततौर पर अपना जुर्म कुबूल किया है और कहा, 'मैंने उसे मारा क्योंकि वह किसी और से शादी करने जा रही थी। पूछताछ में उसने दावा किया कि निकिता के परिवार की ओर से साल 2018 में दर्ज केस की वजह से उसका करियर तबाह हो गया। उसने कहा, 'मैंने मेडिकल की पढ़ाई नहीं की, क्योंकि मुझे गिरफ्तार कर लिया गया था। और इसलिए मैंने बदला लिया। उसने 25 अक्टूबर की रात को निकिता के साथ बातचीत करने की बात भी कबूल की है। हरियाणा पुलिस की अब तक की जांच में मिले कॉले डिटेल्स से यह बता चला है कि निकिता और तौसिफ के बीच हत्या वाले दिन से एक दिन पहले तक बातचीत हुई है। तौसिफ उसकी मर्जी के खिलाफ उसे घर से भागने और उसके साथ शादी करने का दबाव बना रहा था। बताया जा रहा है कि आरोपी और पीड़िता ने 12वीं तक साथ में पढ़ाई की है। निकिता ने जिस प्राइवेट स्कूल में पांचवीं से लेकर 12वीं तक की पढ़ाई की, उसी स्कूल में आरोपी तौसिफ भी पढ़ता था। वह, यहां हॉस्टल में रहता था। इसी दौरान वह निकिता से एकतरफा प्यार करने लगा। वह निकिता का प्यार पाने के लिए उसे बार-बार परेशान भी किया करता था।