अहमदाबाद | गुजरात में कोरोना के मामले बढ़ते देख अहमदाबाद समेत राज्य के चार शहरों में कर्फ्यू लगा दिया गया है| ऐसे में भाजपा नेता रैली और स्नेह मिलन समारोह आयोजन कर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा रहे हैं| एक सरकार लोगों मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंस मेन्टेन करने का लोगों से अपील कर रही है, दूसरी ओर उसकी पार्टी के नेता कोरोना गाइडलाइन का सरेआम उल्लंघन कर रहे हैं| ऐसी घटना सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद गुजरात भाजपा हरकत में आई| गुजरात भाजपा प्रमुख सीआर पाटील ने कोरोना की मौजूदा स्थिति को देखते हुए गुजरातभर में कहीं भी कोई कार्यक्रम आयोजित नहीं करने का आदेश दिया है| इतना ही नहीं पूर्व निर्धारित सभी कार्यक्रम भी रद्द करने को कहा है| पाटील न अगले आदेश तक किसी प्रकार के कार्यक्रम के आयोजन पर ब्रेक लगा दी है| दरअसल राज्य के ऊर्चा मंत्री सौरभ पटेल की मौजूदगी में बोटाद के सर्किट हाउस में आयोजित स्नेह मिलन कार्यक्रम में बड़ी संख्या नेता और कार्यकर्ता मौजूद रहे थे| जिसमें स्वयं सौरभ पटेल ने सोशल डिस्टेंस का उल्लंघन करते हुए सबक दिया कि नियमों का पालन करना जनता की जिम्मेदारी है| कोरोना महामारी के बीच ऐसे कार्यक्रम जारी रहेंगे और लोगों को स्वयं नियमों का पालन करना होगा| इससे पहले शनिवार को भाजपा विधायक आत्माराम परमार ने रैली निकाली थी| राज्य सरकार के कैबिनेट मंत्री गणपत वसावा भी शामिल हुए थे| खुल जीप में आत्माराम परमार और गणपत वसावा सवार थे और भाजपा कार्यकर्ता डीजे की ताल पर झूम रहे थे| रैली में शामिल कई लोगों ने मास्क तक नहीं लगा रखा था| ऐसे में सोशल डिस्टेंस मेन्टेन करने की उम्मीद करना बेकार है|