गोपालगंज. सड़क दुर्घटना में मंगलवार को एक जंगली जानवर की मौत हो गई. जानवर को देखने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा. इस दौरान लोगों में अंधविश्वास इस कदर फैला कि लोग मृत जानवर के नाखून और उसके बाल उखाड़ने लगे. घटना मोहम्मदपुर थाना क्षेत्र के कुशहर गांव के समीप एनएच 27 की है. कुछ लोग इस मृत जानवर को बाघ का बच्चा बताते रहे तो कुछ तेंदुआ का बच्चा बताते रहे. वन विभाग के अधिकारी जानवर के आकार और रंग को देखकर फिशिंग कैट होने की आशंका जता रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक मोहम्मदपुर थाना क्षेत्र के कुशहर गांव के समीप एनएच 27 पर एक जंगली जानवर सड़क किनारे डिवाइडर के बीच में पड़ा हुआ था. उसका आकार करीब ढाई फीट था. स्थानीय लोगों ने जैसे ही उसे देखा, लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई. स्थानीय लोगों के मुताबिक ऐसी आशंका जताई जा रही है कि किसी वाहन की चपेट में आने से इस जानवर की मौत हुई. जानवर के शरीर पर बाघ और चीते जैसे निशान थे. लंबाई करीब 2 से ढाई फीट थी. जानवर का सिर सड़क दुर्घटना में वाहन से कुचल गया था जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. स्थानीय युवक वहां पर पहुंचकर सेल्फी भी लेते रहे. हालांकि इस जानवर के मृत होने के बाद लोगों में अंधविश्वास इस कदर फैला कि भारी संख्या में लोग पहुंचकर मृत जानवर के नाखून और बाल उखाड़ने लगे. पुलिस मौके पर नहीं पहुंची.