मुंबई। हाल ही में मुंबई सेंट्रल स्थित सिटी सेंटर मॉल में आग लगने के बाद मनपा प्रशासन द्वारा मुंबई की सभी ७५ मॉल की अग्निसुरक्षा की जांच की गई। इस जांच में अग्निसुरक्षा के संदर्भ में लापरवाही बरतने वाले २९ मॉल को नोटिस दी गई है। गौरतलब हो कि सिटी सेंटर मॉल में लगी आग बुझाने में फायर ब्रिगेड को ५६ घंटे लगे थे। अवैध निर्माण कार्य और बंद पड़े अग्निशन यंत्रों के चलते मॉल की आग को नियंत्रित करने में फायर ब्रिगेड को भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था. ऐसा आरोप स्थायी समिति की बैठक में सदस्यों ने लगाया था। इसके साथ ही स्थायी समिति ने दो बार आग को लेकर पेश की गई रिपोर्ट पर भी असंतोष जताया था। स्थायी समिति अध्यक्ष यशवंत जाधव ने मुंबई के सभी मॉल के अग्निसुरक्षा की जांच कर रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया था। जिसके बार अग्निशमन विभाग ने मॉल की जांच शुरू कर दी, जिसमें २९ मॉल में अग्नि सुरक्षा के प्रति लापरवाही बरतने की बात सामने आई। मुख्य दमकल अधिकारी शशिकांत काले के अनुसार इन लापरवाह २९ मॉल को नोटिस दी गई है। नोटिस के तहत अग्निसुरक्षा यंत्रों को तत्काल कार्यान्वित करने का निर्देश दिया गया है। मॉल प्रबंधकों को नोटिस की अनदेखी करने पर कार्यवाही की बात कही गई है।