गया । गया जिले के बेलागंज प्रखंड क्षेत्र से चलने वाले सवारी वाहनों के संचालक यात्रियों से मनमाना किराया वसूल रहे हैं और वाहनों में ओवरलोडिंग कर रहे हैं। इन कारणों से यात्रियों एवं वाहन संचालको से नोकझोंक के मामले बढ़ते जा रहे हैं। दरअसल गया-पटना राष्ट्रीय राजमार्ग पर अवस्थित बेलागंज से ग्रामीण क्षेत्रों के अलावे जिला मुख्यालय सहित विभिन्न प्रखण्डों के लिये बड़ी संख्या में छोटी एवं बड़ी वाहनों का संचालन होती है। प्रखंड मुख्यालय से जिला मुख्यालय की दूरी 20 किलोमीटर है और वाहन संचालक यात्रियों से 30 रुपया किराया ले रहे हैं। यही स्थिति है खिजरसराय के लिये भी है। मात्र 12 किलोमीटर की दूरी के ‎लिये 30 रुपये वसूले जा रहे हैं। वहीं, बेलागंज से टिकारी की दूरी है 11 किलोमीटर और भाड़ा है 30 रुपया। मखदुमपुर की दूरी है 12 किलोमीटर और किराया है 20 रुपया। जो न तो व्यवहारिक रूप से सही है और न ही सरकारी मापदंड के अनुसार सही है। इसके कारण नित्य यात्रियों एवं वाहन संचालको के बीच झड़प होना आम बात हो गयी है। बात दें ‎कि कोरोना वायरस के चलते वाहनों के शुरू हुए परिचालन के बाद भाड़ा में वेतहासा वृद्धि हुई। शुरुआत में तो लोग इसे कम वाहनों के परिचालन को कारण मान किराया सुलभ तरीके से दे देते थे। लेकिन वर्तमान में वाहनों में भेड़-बकरी की तरह लादने के बाद भी किराया से अधिक जबरन वसूली से आम जन परेशान हैं। इसी प्रशासनिक स्तर पर भी कोई देखरेख नही हो रही, ‎‎जिससे संचालको का मनोबल बढ़ा रहता है।