बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर केन्द्रीय विश्वविद्यालय (बीबीएयू) की प्रवेश परीक्षा की तिथि में बदलाव किया गया है। यह परीक्षा अब 27 फरवरी की जगह 28 फरवरी को शुरू होगी। पूरी परीक्षा दो दिन में सम्पन्न होगी। इसके लिए देश भर में करीब 115 परीक्षा केन्द्र बनाए गाए हैं। इसके साथ ही रेजिडेंशियल कोचिंग एकेडमी में दाखिले के लिए भी परीक्षा होगी।
 
वर्तमान शैक्षिक सत्र में होने वाली दूसरी पीएचडी प्रवेश परीक्षा के लिए 29 जनवरी से ऑन लाइन आवेदन फार्म भरे जा रहे थे। बीबीएयू प्रशासन के फैसले के अनुरूप विवि की रेजिडेंशियल कोचिंग एकेडमी (आरसीए) में दाखिले के लिए पीएचडी प्रवेश परीक्षा के साथ ही ऑनलाइन आवेदन फार्म भरे गए हैं। पीएचडी और आरसीए की प्रवेश परीक्षा एक साथ एक तिथि को ही होगी। प्रवेश समन्वयक प्रो. कुक्षेन्द्र मिश्रा ने बताया कि आवेदन की अन्तिम तारीख 20 फरवरी तक पीएचडी प्रवेश परीक्षा के लिए 1441 आवेदन फार्म जमा हुए हैं। वहीं आरसीए के लिए  630 आवेदन फार्म आए हैं। पीएचडी के लिए 87 सीटें और आरसीए के लिए 200 सीटों रिक्त हैं। 
 
17 राज़्यों में होगी प्रवेश परीक्षा 
प्रो. कुक्षेन्द्र ने बताया कि पीएचडी और आरसीए की प्रवेश परीक्षा देश के 17 राज्यों में होगी। इनमें करीब 115 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। इसमें उत्तर प्रदेश, झारखण्ड, असम, मिजोरम, नागालैंड, मेद्यालय, अरूणाचल प्रदेश, मणीपुर, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, राजस्थान, चढ़ीगढ़, जम्मू और कश्मीर, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ शामिल हैं। 
 
उत्तर प्रदेश में पांच शहरों में होंगी परीक्षा 
पीएचडी और आरसीए की प्रवेश परीक्षा उत्तर प्रदेश के पांच शहरो में होगी। इसके लिए लखनऊ, इलाहाबाद, कानपुर, गोरखपुर अरौर ग्रेटर नोएडा को चुना गया है। लखनऊ में परीक्षा के लिए छह केन्द्र बनाए गए हैं। अम्बेडकर विवि में परीक्षा केन्द्र नहीं होगा।